महाराष्ट्र सरकार की मैगजीन में आंबेडकर की जगह छपी कांग्रेसी नेता की फोटो

महाराष्ट्र सरकार ने सरकारी मैग्जीन का वितरण रोक दिया है, जिसमें डॉ. भीमराव आंबेडकर की जगह कांग्रेसी नेता विलास राव देशमुख के बचपन की तस्वीर छाप दी गई।महाराष्ट्र सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की ओर से हर महीने अंग्रेजी में पत्रिका निकाली जाती है।

महाराष्ट्र सरकार की पत्रिका में डॉ. आंबेडकर की जगह विलासराव देशमुख की तस्वीर प्रकाशित कर दी(Photo | Varsha Gaikwad/Twitter.com)

महाराष्ट्र सरकार ने सरकारी मैग्जीन का वितरण रोक दिया है, जिसमें डॉ. भीमराव आंबेडकर की जगह कांग्रेसी नेता विलास राव देशमुख के बचपन की तस्वीर छाप दी गई।महाराष्ट्र सरकार के सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की ओर से हर महीने अंग्रेजी में पत्रिका निकाली जाती है। सरकारी सूत्रों का कहना है कि इस गलती के लिए जिम्मेदारों पर कार्रवाई होगी।

विभाग के एक अधिकारी ने कहा गलत तस्वीर छपने का मामला संज्ञान में आने पर मैग्जीन का सर्कुलेशन तत्काल प्रभाव से रोक दिया गया है।हमने सात हजार प्रतियां प्रकाशित कीं, छह सौ प्रतियां वितरित होने के बाद ही सर्कुलेशन रोक दिया गया।
दरअसल पत्रिका में एक जगह डॉ. भीमराव आंबेडकर के बचपन की तस्वीर छापी जानी चाहिए थी, मगर वहां पर दिवंगत कांग्रेसी नेता विलासराव देशमुख की तस्वीर प्रकाशित कर दी गई। उधर कारण बताओ नोटिस जारी करने पर किताब प्रकाशित करने वाली एजेंसी ने कहा कि सभी तस्वीरें आधिकारिक वेबसाइट से ली गई हैं। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री तथा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता इस मामले की आलोचना करते हुए बीजेपी सरकार को मामले में उदासीन बताया है।

तस्वीर प्रकरण को उन्होंने कहा कि आंबेडकर और देशमुख यह दोनों का अपमान है।उन्होंने कहा कि दोनों हस्तियां महाराष्ट्र से नाता रखतीं हैं मगर उनकी तस्वीरों का घालमेल माफी के काबिल नहीं है।उन्होंने आरोप लगाया कि अंग्रेजी पत्रिका के प्रकाशन का जिस एजेंसी से आउटसोर्सिंग हो रही है, उस एजेंसी का महाराष्ट्र की संस्कृति से कोई नाता नहीं है।

पढें राज्य समाचार (Rajya News). हिंदी समाचार (Hindi News) के लिए डाउनलोड करें Hindi News App. ताजा खबरों (Latest News) के लिए फेसबुक ट्विटर टेलीग्राम पर जुड़ें।

अपडेट
X