ताज़ा खबर
 

20 फीट गड्ढे में गिरे मजदूर को बचाने में फंसे 3 दमकल कर्मी, 1 की मौत, अभी भी अटके हैं लोग

मामले में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बयान देते हुए कहा, 'मजदूर अब भी नीचे फंसा हुआ है और उसे बचाने के प्रयास जारी हैं। एनडीआरएफ की टीम भी बचाव कार्य में लगी हुई है।'

Author पुणे | Published on: December 2, 2019 1:56 PM
प्रतीकात्मक फोटो (सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

महाराष्ट्र के पुणे में पिंपरी चिंचवड के दापोडी इलाके में रविवार (01 दिसबंर) की शाम मिट्टी के ढेर गिरने से उसके नीचे दबने के कारण एक दमकलकर्मी की मौत हो गई। वहीं एक मजदूर भी मिट्टी के नीचे फंसा हुआ है और उसे बचाने के प्रयास जारी हैं। पुलिस के अनुसार, दापोडी में सीवर लाइन बिछाने के लिए 20 फुट गहरा गड्ढा खोदा गया था और निकाली गई मिट्टी का ढेर जमीन पर रख हुआ था। घटनास्थल पर काम कर रहा मजदूर नीचे गिर गया और वह वहां फंस गया। बता दें कि उसे बाहर निकालने में एक दमकल कर्मी की मौत हो गई। वहां फंसे बाकी लोगों को निकालने का काम जारी है।

क्या है पूरा मामलाः पिंपरी चिंचवड के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘काम करते समय एक मजदूर गलती से खाई में गिर गया और मदद के लिए पुकारने लगा। दो स्थानीय निवासी तुरंत नीचे जाकर उसे बचाने की कोशिश करने लगे। जल्द ही दमकल कर्मी मौके पर पहुंच गए।’ उन्होंने कहा, ‘तीन दमकलकर्मियों ने खाई में प्रवेश किया और दोनों स्थानीय निवासियों को बचाकर ऊपर भेजा, लेकिन जब वे मजदूर को बचाने की कोशिश कर रहे थे तभी मिट्टी का एक ढेर उन पर गिर गया और वे चारों उसमें फंस गए।’

Hindi News Today, 02 December 2019 LIVE Updates: देश की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

एनडीआरएफ की टीम को तैनात की गईः बता दें कि अन्य दमकलकर्मियों ने अपने फंसे हुए साथियों को बचाया। मिट्टी के ढेर में से निकाले गए एक दमकल कर्मी की हालत गंभीर थी, बाद में उसकी मौत हो गई। उन्होंने यह भी कहा, ‘मजदूर अब भी नीचे फंसा हुआ है और उसे बचाने के प्रयास जारी हैं। एनडीआरएफ की टीम भी बचाव कार्य में लगी हुई है।’

अन्य मामलेः बता दें कि एक ऐसा ही मामला सामने आया था नई दिल्ली के शकरपुर में जहां सीवर सफाई कर रहे तीन सफाई कर्मी बीमार पड़ गए थे। इसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां एक ही मौत हो गई। इसके साथ उसके अन्य साथी की हालत हालत नाजुक बताई जा रही थी। गौरतलब है कि सीवर सफाई में अकसर मजदूरों की जान चली जाती हैं। ऐसे में सीवर के सफाई करने की प्रक्रिया पर भी सवाल उठते हैं। इस तरह के कई मामले उत्तर प्रदेश, राजस्थान और दिल्ली में भी सामने आए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 अयोध्या में शुरू हुई राम रसोई, रामलला के भक्तों को रोजाना मिलेगा मुफ्त में भोजन; गोविंद भोग व कतरनी चावल
2 Babita Phogat Marriage: सिर्फ 21 बरातियों संग आए पहलवान के साथ दंगल गर्ल बबीता ने लिए 8 फेरे, यहां पढ़ें शादी के सारे Updates
जस्‍ट नाउ
X