ताज़ा खबर
 

मौत की सजा पाए शख्स की रिहाई के आदेश, मद्रास हाईकोर्ट ने दिया फैसला

शख्स को एक निचली अदालत ने 13 वर्षीय नाबालिग की हत्या का आरोप साबित होने के बाद फांसी की सजा सुनाई थी।

crime, crime newsसांकेतिक तस्वीर। फोटो सोर्स – एक्सप्रेस अर्काइव

मद्रास हाईकोर्ट ने गुरुवार (18 मार्च, 2021) को एक अहम फैसला देते हुए मौत की सजा पाए एक शख्स की रिहाई के आदेश दिए। उसे साल 2017 में हत्या के मामले मौत की सजा सुनाई गई। मामले में सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने तमिलनाडु सरकार के निर्देश दिया कि वो पीड़ित परिवार को पांच लाख रुपए की राशि बतौर मुआवजा दे। मालूम हो कि शख्स को एक निचली अदालत ने 13 वर्षीय नाबालिग की हत्या का आरोप साबित होने के बाद फांसी की सजा सुनाई थी।

हाईकोर्ट की जस्टिस पीएन प्रकाश और वी शिवगणनम् की बेंच ने एक याचिका की सुनवाई में ये फैसला सुनाया। याचिका में शख्स ने फांसी की सजा को चुनौती दी थी। उसे चेंगलपट्टू की महिला कोर्ट ने फांसी की सजा सुनाई थी। याचिका में हत्या में जांच के दौरान ‘खामियों’ पर इशारा किया गया। इस संबंध में कोर्ट ने सरकार से कथित खामियों की जांच कराने और इसमें जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

इधर उत्तर प्रदेश में मथुरा जिले की अदालत ने किशोरी को बहला-फुसलाकर भगा ले जाने और दुराचार करने के आरोपी युवक को दोषी ठहराते हुए 10 साल सश्रम कारावास एवं 20 हजार रुपए के अर्थदंड की सजा सुनाई है। हालांकि, पर्याप्त साक्ष्यों के अभाव में अदालत ने अभियुक्त की सहायता करने की आरोपी महिला सहित दो लोगों को बरी कर दिया।

सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता सुभाष चंद चतुर्वेदी ने बताया, ‘यह मामला थाना बरसाना क्षेत्र का है। जहां एक गांव में रहने वाली 12 वर्षीय किशोरी को गोवर्धन क्षेत्र के मलसराय गांव का युवक वीरपाल भगा ले गया था। किशोरी के पिता ने वीरपाल तथा उसकी मदद करने वाली वृन्दावन क्षेत्र के गांव बाटी की महिला तारावती तथा भरतपुर के डीग थाना क्षेत्र के गांव बरौली निवासी जग्गो उर्फ जगदीश के खिलाफ बेटी को भगाकर ले जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।’

उन्होंने बताया, ‘पुलिस ने किशोरी को बरामद कर उसका चिकित्सा परीक्षण कराया जिसमें उसके साथ दुष्कर्म होने की पुष्टि हुई। इस पर पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश (विशेष न्यायालय पॉक्सो अधिनियम-द्वितीय) जहेंद्र पाल सिंह की अदालत में आरोप पत्र पेश किया।’ (एजेंसी इनपुट)

Next Stories
1 मास्क ना पहनने पर पूछा सवाल, लड़की बोली- हम गर्ल्स हैं, आप नहीं कर सकते ऐसे
2 यूपी: 13 साल के लड़के ने ढाई साल की बच्ची से किया रेप, कुकर्म से पहले देखी थी अश्लील फिल्म
3 प्रचार करने पहुंचे विधायक का खराब चावल से स्वागत, उल्टे पांव लौटे
यह पढ़ा क्या?
X