ताज़ा खबर
 

एमपी: हाथ-पैर में ज्‍यादा उंगलियों संग पैदा हुई बेटी तो मां ने काट दीं, नवजात की मौत

महिला ने पुलिस के सामने माना, उसे लगा कि बच्ची की शादी में इन उंगलियों के चलते बाधा आएगी। जिसके चलते महिला ने हसिये से बच्ची के हाथ और पैर की एक-एक उंगलियां काट दी।

Author December 30, 2018 11:01 AM
प्रतीकात्मक तस्वीर

मध्य प्रदेश में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक मां ने ही अपनी नवजात बेटी की हसिये से उंगलियां काट दीं। मां ने यह दिल दहलाने वाला कदम अंधविश्वास के चलते उठाया। उंगलियां कटने के बाद बच्ची के शरीर में इंफेक्शन फैल गया। जिससे कुछ ही घंटों बाद बच्ची की मौत हो गई। इसकी खबर इलाके में आग की तरह फैल गई। साथ ही प्रशासन में भी हड़कम्प मच गया।

मामला खंडवा के आदिवासी इलाके के सुंदरदेव गांव का है। यहां रामदेव की पत्नी ने 22 दिसंबर को एक बेटी को जन्म दिया था। बच्ची के हाथ व पैरों में 6-6 अंगुलियां थीं। इसके बाद रामदेव की पत्नी ने इसे अपशकुन से जोड़कर देखा। महिला ने पुलिस के सामने माना कि उसे लगा कि बच्ची की शादी में इन उंगलियों के चलते बाधा आएगी। जिसके चलते महिला ने हसिये से बच्ची के हाथ और पैर की एक-एक उंगलियां काट दी। इसके बाद बच्ची के हाथ व पैर में घाव हो गए। जिनमें इंफेक्शन फैल गया। उंगली कटने के 6 घंटे बाद ही बच्ची ने दम तोड़ दिया।

बच्ची की उंगलियां काटे जाने की खबर स्वास्थ्य विभाग को दो दिन बाद लगी। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे ब्लॉक मेडिकल अफसर ने महिला से घटना की जानकारी ली। महिला ने बच्ची की उंगली काटने की बात भी स्वीकारी। मामले में इलाके के संबंधित जिम्मेदारों को नोटिस जारी कर दी गई है। वहीं, पुलिस अधीक्षक रूचि वर्धन मिश्रा ने कहा कि, बच्ची के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।ृमेडिकल रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

बता दें कि, करीब एक हफ्ते पहले उत्तर प्रदेश के लखनऊ में एक मां ने अपनी बेटी ही हत्या कर दी थी। यहां के इंदिरा नगर में रहने वाले एक इंजीनियर की पत्नी ने अपनी चार माह की बच्ची की हत्या कर दी थी। बेटी की हत्या के करने के बाद महिला उसके साथ घंटों लेटी भी रही थी। हत्या करने के बाद उसने पति से कहा था कि, ‘मैंने उसे मुक्त कर दिया’। इस मामले में पति ने ही हत्या की तहरीर दी। पुलिस आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस ने बताया था कि, महिला काफी समय से डिप्रेशन में थी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X