ताज़ा खबर
 

5 घंटे में 15 किलोमीटर का रोड शो, दिग्गजों के साथ कमलनाथ का भोपाल में शक्ति प्रदर्शन

रोड शो के दौरान नेताओं ने राज्य की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा और पिछले 12 वर्षों में शिवराज सिंह चौहान की सरकार की नाकामियों को गिनाया।

मध्य प्रदेश के नव नियुक्त प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने पार्टी के दिग्गज नेताओं के साथ आज (01 मई को) चिलचिलाती धूप में प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार के खिलाफ बिगूल फूंकते हुए रोड शो किया।

मध्य प्रदेश के नव नियुक्त प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री कमलनाथ ने पार्टी के दिग्गज नेताओं के साथ आज (01 मई को) चिलचिलाती धूप में प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार के खिलाफ बिगूल फूंकते हुए रोड शो किया। प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद कमलनाथ का यह पहला राज्य आगमन है। मंगलवार को वो भोपाल के राजा भोज हवाई अड्डे पर उतरे इसके बाद खुली जीप में सवार होकर पार्टी के दफ्तर पहुंचे। हवाई अड्डे से लेकर पार्टी दफ्तर के बीच करीब 100 जगहों पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने उनके समर्थन में जमकर नारेबाजी की और फूलमाला पहना कर उनका स्वागत किया। उनके साथ चुनाव अभियान समिति के अध्यक्ष ज्योतिरादित्य सिंधिया, पार्टी महासचिव और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, दीपक बाबरिया, कांतिलाल भूरिया, सुरेश पचौरी समेत दर्जन भर नेता मौजूद थे। रोड शो के दौरान नेताओं ने राज्य की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा और पिछले 12 वर्षों में शिवराज सिंह चौहान की सरकार की नाकामियों को गिनाया।

कांग्रेस के इतने नेताओं का जुटान लोगों को इस बात का संदेश देने के लिए हुआ है कि उनके बीच कोई मतभेद नहीं है। इससे पहले इस बात की चर्चा थी कि कमलनाथ को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने से पार्टी दो फाड़ हो गई है। सियासी गलियारों में इस बात की भी चर्चा तेज थी कि इस साल के अंत तक होनेवाले विधान सभा चुनाव में अगर कांग्रेस जीतती है तो कमलनाथ ही कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री पद के दावेदार होंगे। बता दें कि कमलनाथ कांग्रेस के न केवल दिग्गज नेता हैं बल्कि वो नेहरू-गांधी परिवार के काफी करीबी रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की दादी इंदिरा गांधी, चाचा संजय गांधी, पिता राजीव गांधी और मां सोनिया गांधी से भी कमलनाथ के रिश्ते काफी निकट रहे हैं।

करीब 15 किलोमीटर लंबे रोड शो को देखते हुए भोपाल प्रशासन ने कई अहन मार्गों पर रूट डायवर्ट कर दिया है। इस रूट पर  दो सरकारी और छह प्राइवेट अस्पताल भी हैं। इसलिए पुलिस ने मरीजों को कोई दिक्कत न हो इसके लिए विशेष व्यवस्था की है। सुबह 11 बजे शुरू हुआ रोड शो शाम पांच बजे तक जारी रहा। इसके बाद नेताओं का प्रेस से बात का कार्यक्रम है। राज्य दौरे के दूसरे दिन कमलनाथ उज्जैन के महाकाल मंदिर में माथा टेकेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App