ताज़ा खबर
 

पीएम मोदी के मुंबई दौरे पर आतंकी साया, 50 करोड़ रुपये की दी गई सुपारी!

हाल ही में खुफिया एजेंसियों के इनपुट्स के आधार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आतंकी हमले की आशंका जताई थी।

एक जनसभा रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Express photo by Bhupendra rana)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 25 मई मुंबई जाएंगे, लेकिन इससे पहले उन्हें बम से उड़ाने की सुपारी दी जा रही है। 21 मई को मध्य प्रदेश के सतना जिले में एक शख्स के पास अंजान नंबर से कॉल आया। जिसमें फोन करने वाले शख्स ने कहा कि उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बम से उड़ाना है। इस घटना को अंजाम देने के लिए उसे 50 करोड़ रुपये दिया जाएगा। दरअसल, सतना जिले के रामनगर निवासी कुशल सोनी ने पहले तो इसे किसी की शरारत समझा, लेकिन जब उसने 8 अंकों वाले नंबर को देखा और कॉल करने वाले शख्स की पूरी बात सुनी तो वो हैरान रह गया।

सोनी ने तत्काल रामनगर थाने में मामले की लिखित शिकायत दर्ज कराई। साथ ही कॉल की ऑडियो क्लिप भी पुलिस को दी। अब इस मामले में पुलिस की साइबर सेल जांच कर रही है। पुलिस अधीक्षक मिथिलेश शुक्ला ने बताया कि रामनगर के कुशल सोनी को शनिवार शाम को मुंबई में प्रधानमंत्री की जनसभा को लेकर फोन आया था, पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और उसकी जांच की जा रही है।

सोनी को कॉल करने वाले शख्स ने कहा कि 25 मई को मुंबई के पास पीएम मोदी की रैली है। रैली में ही पीएम को बम से उड़ाना है। अंजान शख्स ने सोनी से कहा कि दो बंदे तैयार हैं। आप तीसरे हो जो ये काम करोगे। आपको मुंह मांगी रकम दी जाएगी।

वहीं पुलिस इस कॉल को किसी कि शरारत मान रही है। थाना प्रभारी केएल मिश्रा ने बताया कि शनिवार की शाम 4.50 बजे ये फोन आया था। ये विदेश से आई कॉल हो सकती है। फोन करने वाले शख्स की भाषा गुजराती लग रही है। इससे पहले सतना जिले के बलराम और राजीव नाम के दो पाकिस्तानी जासूसों को भोपाल एसटीएफ गिरफ्तार कर चुकी है।

हाल ही में खुफिया एजेंसियों के इनपुट्स के आधार पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आतंकी हमले की आशंका जताई थी। बताया गया था कि मोदी कश्मीरी आतंकियों के निशाने पर है। जानकारी के मुताबिक, लंदन के कश्‍मीरी आतंकियों के निशाने पर भारत के दोनों बड़े नेता हो सकते हैं। इन आतंकियों की लोकेशन का पता नहीं है, मगर ये आतंकी कश्‍मीर घाटी के रास्‍ते भारत में घुस चुके हैं और छोटे समूहों में ट्रेन के जरिए यूपी आएंगे।

इस इनपुट की जानकारी प्रधानमंत्री की सुरक्षा करने वाले स्‍पेशल प्रोटेक्‍शन ग्रुप (एसपीजी) और यूपी सीएम की सुरक्षा देख रहे अधिकारियों को दे दी गई है। प्रधानमंत्री मोदी बहुत समय से अंतर्राष्‍ट्रीय और घरेलू आतंकियों के निशाने पर रहे हैं।

देखिए वीडियो - मोदी सरकार के 3 साल: 61 प्रतिशत लोगों का कहना- 'सरकार उम्मीदों पर खरी उतरी'

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App