ताज़ा खबर
 

मध्‍य प्रदेश में बोर्ड परीक्षाओं के पेपर चोरी, स्‍कूल का ताला तोड़ दिया वारदात को अंजाम

स्कूल में 15 फरवरी से चोरी की वारदातें हो रही हैं लेकिन स्कूल प्रशासन शुरु से चोरी के मामलों को छिपाने की कोशिश करता रहा है।
डॉग स्क्वॉड के साथ पहुंची पुलिस को घटना स्थल और स्कूल परिसर के अंदर और बाहर कई पेपर बिखरे हुए मिले।

बच्चों के भविष्य के साथ देश के हर राज्य में खिलवाड़ हो रहा है। कुछ दिन पहले बिहार में परीक्षाओं के पेपर लीक होने का मामला सामने आया था और अब मध्य प्रदेश में परीक्षा का पेपर चोरी होने का मामला सामने आया है। यह मामला मध्य प्रदेश के पन्ना जिले का है जहां पर 2 मार्च से 10वीं और 12वीं की बोर्ड की परीक्षाएं हैं। परीक्षा से पहले ही पेपर चोरी होने से शिक्षा विभाग में हड़कंप मच गया है। इसे लेकर यह कयास लगाया जा रहा है कि हो सकता है इन पेपर की चोरी बोर्ड परीक्षा से पहले लीक करने के लिए की गई हो।

सोमवार देर शाम पन्ना जिले के कोतवाली थाना क्षेत्र के शासकीय आर.पी. हॉयर सेकेंड्री उत्क्रष्ट विद्यालय में कुछ बदमाश घुस गए। जिस कमरे में प्रश्न पत्र रखे हुए थे बदमाश उस कमरे की खिड़की तोड़कर अंदर दाखिल हुए और पेपर चोरी करके ले गए। बताया जा रहा है कि स्कूल में 15 फरवरी से चोरी की वारदातें हो रही हैं लेकिन स्कूल प्रशासन शुरु से चोरी के मामलों को छिपाने की कोशिश करता रहा है। अब पेपर लीक होने के पीछ स्कूल प्रशासन की लापरवाही साफ दिखाई देती है। स्कूल के अधिकारी ने बताया कि परीक्षा के प्रश्न पत्रों को स्कूल परिसर के पिछले हिस्से के एक कमरे में रखा गया था जहां पर बिना इजाजत लिए किसी को जाने की अनुमति नहीं थी। इस चोरी को देखकर ऐसा लग रहा है कि हो सकता है कि इसमें किसी स्कूल के ही अधिकारी का हाथ हो।

इस मामले की सूचना पुलिस को दी गई जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने आगामी बोर्ड परीक्षा को ध्यान में रखते हुए इस मामले को बहुत ही गम्भीरता से लिया है। डॉग स्क्वॉड के साथ पहुंची पुलिस को घटना स्थल और स्कूल परिसर के अंदर और बाहर कई पेपर बिखरे हुए मिले। अधिकारी ने बताया कि हम इस मामले की जांच कर रहे हैं और इसके पीछे किसका काम है यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। इस मामले में जो भी दोषी होगा उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

देखिए वीडियो - मध्य प्रदेशः दुकानादार ने चोरों को रंगे हाथ पकड़कर बनाया मुर्गा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.