ताज़ा खबर
 

मध्‍य प्रदेश: पथराव का आरोप लगाकर पुलिस ने 80 साल की महिला के घर पर बोला धावा, तोड़ दी हड्डियां

बुजुर्ग महिला ने आगे कहा कि पुलिसवाले इतने पर ही नहीं रुके उन्होंने पति के साथ भी मारपीट की।

बुजुर्ग महिला ने आगे कहा कि इस दौरान उनके करीब 100 वर्षीय पति शिवचरण के साथ भी बुरी तरह से मारपीट की। (फोटो सोर्स यूट्यूब)

मध्य प्रदेश में एक 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला कमलाबाई ने कथित तौर पर आरोप लगाया है कि बीते सप्ताह सूबे की पुलिस ने उनके साथ बुरी तरह से मारपीट की। बुजुर्ग महिला ने कहा, ‘शुक्रवार को जब प्रदर्शनकारी वापस लौट रहे थे तब पुलिसकर्मियों ने मुझे बुरी तरह से पीटा।’ बुजुर्ग महिला ने आगे कहा कि इस दौरान उनके करीब 100 वर्षीय पति शिवचरण के साथ भी बुरी तरह से मारपीट की। जिनके पैर पर काफी चोट आई है। पुलिस की बर्बरता यहीं नहीं रुकी उन्होंने मेरे बेटे और चार पोतों को भी गिरफ्तार कर लिया। बुजुर्ग महिला के अनुसार जब इसकी शिकायत करने के लिए वो भोपाल के गांधी मैदान में उपवास कर रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पास पहुंची तब उन्हें अधिकारियों द्वारा सीएम से मिलने की इजाजत नहीं दी गई। बता दें बीते दिनों मंदसौर में फसलों की उचित कीमत और कर्ज माफी की मांग के लिए रैली कर रही भीड़ को कंट्रोल करने के लिए मध्य प्रदेश पुलिस ने भीड़ पर गोलीबारी की थी। इस गोलीबारी में 6 लोगों की मौत हो गई थी। बाद में राज्य सरकार ने दावा किया कि ये काम पुलिस का नहीं था। हालांकि बाद में राज्य सरकार इस स्वीकार कर लिया था। वहीं 6 लोगों की मौत के बाद से राज्य में विरोध प्रदर्शन और ज्यादा उग्र हो गए। जिनमें कुछ सीहोर में भी हुए थे।

दूसरी तरफ अपने घर के बाहर रस्सी की खाट पर बैठीं कमलाबाई, जिनका हाथ टूटा हुआ और चेहरे पर सूजन है कहती हैं कि प्रदर्शन कर रहे लोगों ने भागने के लिए शॉट कट का रास्ता अपनाया और उनके आंगन से होकर भाग गए। जिसके थोड़ी देर बाद पुलिस उनके पास आई और प्रदर्शनकारियों की मदद करने का आरोप लगाया। कमलाबाई ने कहा कि एक पुलिसकर्मी ने मुझसे कहा, ‘बुढ़िया तेरे कहने पर ही ट्रक को आग लगाई गई है। तेरी वजह से ही पथराव किया गया है। तब मैंने उनसे कहा कि मैं तो अपनी खाट से हिल भी नहीं सकती। मेरी एक टांग में रॉड पड़ी हुई। पिछले 1.5 साल मैं यहां बैठी हुई हूं। लेकिन उन्होंने मेरी बात नहीं सुनी और मुझे मारना शुरू कर दिया।’ बुजुर्ग महिला ने आगे कहा कि पुलिसवाले इतने पर ही नहीं रुके उन्होंने पति के साथ भी मारपीट की। खबरों के अनुसार मुख्यमंत्री से मिलने की मांग को लेकर दोनों पति-पत्नी उपवास पर बैठे हैं। कमलाबाई कहती हैं कि जब तक मुख्यमंत्री मुझसे मिलने नहीं आते तबतक में उपवास पर रहूंगी।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मंदसौर किसान आंदोलन: शिवराज ने दूसरे दिन तोड़ा उपवास, कांग्रेस ने किया 72 घंटे के सत्याग्रह का ऐलान
2 मध्‍य प्रदेश: सीएम शिवराज सिंह चौहान बोले- जब तक राज्‍य में शांति नहीं आती, उपवास जारी रहेगा
3 मोदी सरकार के खिलाफ हुई RSS से जुड़ी किसान यूनियन, किसानों से जुड़े मुद्दों पर बताया फेल
यह पढ़ा क्या?
X