ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश: कांग्रेस अध्यक्ष ने भगवान महाकाल को लिखी चिट्ठी- ‘शिव राज’ से दिलाएं मुक्ति!

14 जुलाई से सीएम शिवराज सिंह चौहान उज्जैन से ही जनआशीर्वाद यात्रा की शुरुआत करने वाले हैं। इसके लिए दो बसें विशेष तौर पर बनवाई गई हैं। शिवराज इस यात्रा के दौरान राज्यभर का दौरा करेंगे और लोगों से सीधा संवाद करेंगे।

मंदसौर के ‘किसान समृद्धि सम्मेलन’ में छिंदवाड़ा के सांसद कमलनाथ और कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी (पीटीआई फोटो)

मध्य प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और छिंदवाड़ा सांसद कमलनाथ ने उज्जैन के मशहूर भगवान महाकाल को चिट्ठी लिखकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कुशासन से मुक्ति दिलाने की गुहार लगाई है। कमलनाथ की इस चिट्ठी को पार्टी नेताओं ने बाबा महाकाल के दरबार में पहुंचाया, जहां मंदिर के पंडितों ने उसे भगवान को चढ़ाया। चिट्ठी में कमलनाथ ने लिखा है, “हे महाकाल बाबा… 5 साल पहले (साल 2013 में) चुनाव के दौरान शिवराज सिंह ने जनता को आपका अंश मानकर इस प्रदेश को सर्वश्रेष्ठ प्रदेश बनाने का वादा किया था। वही शिवराज फिर आपकी नगरी में आ रहे हैं। धार्मिक भावनाओं के नाम पर मतदाताओं को ठगने की तैयारी है।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे लिखा है, “प्रदेश में किसान कर्ज़ से दबा है। हक मांगने पर गोलियां मिलीं। बेरोज़गारी से परेशान होकर युवा आत्महत्या कर रहे हैं। मामा के राज में भांजियां दरिंगदी की शिकार हो रही हैं। व्यापम घोटाले में अपराधी तो बच गए, स्टूडेंट और उनके माता-पिता जेल चले गए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह करोड़ों रुपए अपनी ब्रांडिंग पर खर्च कर रहे हैं लेकिन प्रदेश को कर्ज़ में धकेल दिया हैं। जनता महंगाई से परेशान है और नर्मदा के सीने को अवैध खनन से छलनी किया जा रहा है।” चिट्ठी में उन्होंने लिखा है, ‘महाकाल आप तो अंतर्यामी हैं। जनता को ठगने वाले फिर से आपके दरबार में आ रहे हैं। छल प्रपंच की तैयारी है लेकिन अब उन्हें आशीर्वाद नहीं, उनके कर्मों और धोखे का फल दो। आप जनता को आशीर्वाद देकर जनता को शिवराज के कुशासन से मुक्ति दिलाओ।’

बता दें कि 14 जुलाई से सीएम शिवराज सिंह चौहान उज्जैन से ही जनआशीर्वाद यात्रा की शुरुआत करने वाले हैं। इसके लिए दो बसें विशेष तौर पर बनवाई गई हैं। शिवराज इस यात्रा के दौरान राज्यभर का दौरा करेंगे और लोगों से सीधा संवाद करेंगे। कांग्रेस ने भी इसकी काट के लिए पोल खोल यात्रा शुरू करने का फैसला किया है। बता दें कि इस साल के अंत तक मध्य प्रदेश में विधान सभा चुनाव होने हैं। कुछ महीने पहले ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गांधी परिवार के विश्वस्त और सीनियर नेता कमलनाथ को प्रदेश कांग्रेस की कमान सौंपी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App