ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेशः राज्यपाल को दी इस्तीफा देकर चुनाव लड़ने की सलाह, हुआ बवाल

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से इस्तीफा मांगा है। कांग्रेस ने उन पर बीजेपी के एजेंट की तरह काम करने का आरोप लगाया है।

मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल (फोटोः इंडियन एक्सप्रेस)

मध्य प्रदेश कांग्रेस ने राज्यपाल आनंदीबेन पटेल से इस्तीफा मांगा है। कांग्रेस ने उन पर बीजेपी के एजेंट की तरह काम करने का आरोप लगाया है। कांग्रेस की तरफ से यह आरोप राज्यपाल की शनिवार को हुई रीवा यात्रा के बाद सामने आया है। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक राज्यपाल ने रीवा में कहा था, ‘मोदी साहब का ध्यान रखना।’ इसी पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस की मीडिया प्रभारी शोभा ओझा उन्हें इस्तीफा देकर लोकसभा चुनाव लड़ने की सलाह दे डाली।

रीवा में क्या कहा था राज्यपाल नेः दरअसल गुजरात की पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल शनिवार को रीवा जिले के गूध में एक सोलर प्लांट के दौरे पर गई थीं। राज्यपाल का यह बयान ग्रामीणों की तरफ से उठाए गए बेरोजगारी के सवाल पर जवाब देने के दौरान सामने आया। रिपोर्ट के मुताबिक राज्यपाल ने सभा में ग्रामीणों से बातचीत करते हुए जवाब देते हुए प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘आप लोग मोदी जी का ध्यान रखिए, वो आप लोगों का ध्यान रख लेंगे।’

कांग्रेस ने यूं दी प्रतिक्रियाः कांग्रेस की मीडिया प्रभारी शोभा ओझा ने राज्यपाल का जिक्र करते हुए कहा, ‘अगर आप बीजेपी के कार्यकर्ता के रूप में काम करना चाहते हैं तो राज्यपाल के पद से इस्तीफा दें और बीजेपी के लिए लोकसभा चुनाव लड़ें।’ उन्होंने आरोप लगाया कि मध्य प्रदेश विधानसभा में अपने संबोधन के दौरान भी उन्होंने कृषि ऋण माफी के संबंध में पढ़ने के बजाय भाजपा का नारा पढ़ा था जो लिखित भाषण का हिस्सा नहीं था।

Next Stories
1 मध्य प्रदेश: सूर्य नमस्कार कार्यक्रम में पहुंचे कांग्रेसी नेता की हार्ट अटैक से मौत
2 कैलाश विजयवर्गीय ने अब कहा- मध्य प्रदेश में सरकार भले कांग्रेस की, लेकिन इंदौर पर BJP का राज
3 मध्यप्रदेश: यूरिया की कमी से परेशान किसानों का प्रदर्शन, नेशनल हाइवे-12 किया जाम
ये पढ़ा क्या?
X