ताज़ा खबर
 

100 नंबर पर कॉल कर पुलिसवालों को बुलाया, बंधक बना छीन ली गाड़ी, फिर लड़की को किडनैप करने निकले बदमाश

इन बदमाशों ने पुलिसकर्मियों के यूनिफॉर्म उतारे। उनकी वर्दी पहनी और पुलस की गाड़ी में सवार होकर एक लड़की को किडनैप करने निकले।आधी रात को अपने घर के सामने 'पुलिस' की गाड़ी और तीन 'पुलिसकर्मियों' को देखकर डर गया।

प्रतीकात्मक तस्वीर।

मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में किडनैपर्स के एक गैंग ने अपराध को अंजाम देने के लिए जो तरीका चुना वो काफी हैरान करने वाला है। यहां पर कुछ बदमाशों ने पहले तो मदद के लिए डायल 100 पर कॉल किया, जब पुलिस की गाड़ी इनके बताये पते पर मदद के लिए पहुंची तो इन बदमाशों ने एक दो नहीं बल्कि पूरे तीन पुलिसकर्मियों को कैद कर लिया। इसके बाद इन गुंडों ने जो किया इसे जानकार आपको हैरानी और परेशानी दोनों ही होगी।  ये बदमाशों ने पुलिसकर्मियों के यूनिफॉर्म उतारे। उनकी वर्दी पहनी और पुलिस की गाड़ी में सवार होकर लड़की को किडनैप करने निकले। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक मध्य प्रदेश के पन्ना जिले के एसपी इकबाल रियाज ने स्वीकार किया कि तीन पुलिसकर्मियों को बदमाशों ने बांधकर रखा था और उनकी गाड़ी भी 45 मिनट तक बदमाशों के कब्जे में रही। पुलिस ने इनको गिरफ्तार करने के लिए छापामारी अभियान शुरू कर दिया है। पन्ना एसपी ने बताया कि शनिवार को साढ़े ग्यारह बजे रात डायल 100 को मदद के लिए कॉल आया। इसके बाद एएसआई सुभाष दुबे, हेड कांस्टेबल प्रकाश मंडल, और ड्राइवर शराफत खान घटनास्थल पर पहुंचे, वहां उन्होंने देखा कि एक नीचे पड़ा हुआ है और उसका चेहरा नीचे जमीन की ओर है। ये इलाका पन्ना के बमौरी गांव के पास पड़ता है।

शख्स को नीचे पड़ा जानकर तीनों पुलिसकर्मी उसके पास पहुंचे, जैसे ही पुलिसकर्मी उस शख्स के ऊपर झुके, उसने पलटकर पिस्तौल तान दी। तुरंत ही इस बदमाश के दूसरे साथी वहां पहुंचे और तीनों पुलिसकर्मियों को काबू में कर लिया। इन गुंडों ने तीनों पुलिसवालों को एक कार में लॉक कर दिया, उनके कपड़े उतार दिये और उसी गांव में 20 साल की एक लड़की को किडनैप करने पहुंचे। लड़की का पिता आधी रात को अपने घर के सामने ‘पुलिस’ की गाड़ी और तीन ‘पुलिसकर्मियों’ को देखकर डर गया। पेशे से किसान लड़की के पिता ने कहा, ‘मैंने घर का दरवाजा तभी खोला जब सामने पुलिस वैन को देखा, इन ‘पुलिस’ वालों ने कहा उन्हें उसकी बेटी को थाने लेकर जाने की जरूरत है क्योंकि उन्हें उनका बयान दर्ज करना है।’ पुलिस के मुताबिक लड़की के पिता को किसी तरह का शक ना हो इसलिए उन्होंने उसे भी साथ आने को कहा।

लड़की के पिता ने कहा कि कुछ ही दूर चलने के बाद बदमाशों ने उन्हें गाड़ी से नीचे फेंक दिया। इसके बाद यह गैंग वहां पहुंचा जहां पर उन्होंने पुलिस वालों को कैद कर रखा था। इन लोगों ने पुलिसवालों को वर्दी वापस की, डायल 100 वैन की चाबी दी और लड़की को लेकर फरार हो गये। घटना के बाद पुलिसवाले अमनगंज पुलिस स्टेशन पहुंचे और उन्हें पूरी मामले की जानकारी दी। पुलिस को अभी भी इस किडनैपिंग की वजह पता नहीं है। पुलिस का दावा है कि एक किडनैपर की पहचान हो गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App