ताज़ा खबर
 

शिवराज चौहान के साले के कांग्रेस में आने पर भड़के दिग्विजय सिंह!

दिग्विजय सिंह का कहना है कि 'मसानी पर भ्रष्टाचार के आरोप लग चुके हैं। मसानी की कोई पहचान नहीं है। वह सिर्फ सीएम शिवराज सिंह चौहान के साले होने के नाते पहचाने जाते हैं।'

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह (फोटो सोर्स : Indian Express)

मध्य प्रदेश में बीजेपी की शिवराज सरकार से सत्ता छीनने की कोशिशों में लगी कांग्रेस में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है। राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह नाराज बताए जा रहे हैं। बीते दिनों कांग्रेस में शामिल हुए शिवराज सिंह के साले संजय सिंह मसानी को लेकर दिग्विजय पार्टी से नाराज हैं। हा्लांकि पार्टी के अन्य नेता उनसे इस बात पर किसी मतभेद के पैदा होने से बच रहे हैं।

संजय सिंह मसानी को कांग्रेस में शामिल कराने पर दिग्विजय का कहना है कि, इस कदम से पार्टी को लेकर लोगों में गलत धारणा बैठेगी। उनका कहा है कि मसानी पर भ्रष्टाचार के आरोप लग चुके हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि मसानी की कोई पहचान नहीं है। वह सिर्फ सीएम शिवराज सिंह चौहान के साले होने के नाते पहचाने जाते हैं। कांग्रेस में वह निजी स्वार्थ के चलते आए हैं। मसानी ने वारसेनी (बालाघाट) सीट से टिकट मांगा था, लेकिन चौहान ने उनकी मांग ठुकरा दी। यही कारण है कि मासानी ने भारतीय जनता पार्टी छोड़ दी।

बता दें कि, संजय सिंह, शिवराज सिंह चौहान की पत्नी साधना सिंह के भाई हैं। पूर्व केंद्रीय मंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और प्रचार स​​मिति के प्रमुख ज्योतिरादित्य सिंधिया ने संजय सिंह को कांग्रेस की सदस्यता दिलाई थी। भाजपा पर वंशवाद की राजनीति को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए संजय सिंह ने कहा,”मध्य प्रदेश को नाथ की जरूरत है शिवराज की नहीं, जो बीते 13 सालों से मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठे हुए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App