ताज़ा खबर
 

मध्‍य प्रदेश: 70 रुपये की चोरी के शक में उतरवाए दसवीं की छात्राओं के कपड़े, प्रिंसिपल को नोटिस

उन्होंने कहा कि इसमें जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ हम सख्त से सख्त कार्यवाही करेंगे।

पीड़िता के अनुसार टीचर ने उसका बैग चेक किया और उसे धमकाया कि वह चोरी का गुनाह कबूल करे।

मध्य प्रदेश में एक बहुत ही शर्मनाक घटना देखने को मिली है जहां पर चोरी के शक में एक छात्रा के सबके सामने कपड़े उतरवा दिए गए। यह मामला दमोह जिले के एक सरकारी स्कूल का है। एएऩआई के अनुसार दसवीं में पढ़ने वाली छात्रा की एक क्लासमेट के 70 रुपए गायब हो गए थे जिसके कारण टीचर ने पीड़िता पर चोरी करने का शक जताया। पीड़िता के अनुसार टीचर ने उसका बैग चेक किया और उसे धमकाया कि वह चोरी का गुनाह कबूल करे। जब पीड़िता ने ऐसा करने से मना कर दिया तो आरोपी टीचर ने उसके और उसकी दोस्त के कपड़े उतरवा दिए। आरोपी टीचर की पहचान ज्योती गुप्ता के रूप में हुई है।

पीड़िता ने इसकी जानकारी अपने परिजनों को दी जिसके बाद मामले की शिकायत जिला शिक्षा अधिकारी से की गई। जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि स्कूल के प्रिंसिपल को इस मामले में कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया गया है। इसके बाद उन्होंने कहा कि इसमें जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ हम सख्त से सख्त कार्यवाही करेंगे। वहीं इस मामले में आरोपी टीचर का कहना है कि उसने छात्रों से कपड़े नहीं उतरवाएं हैं और उसने केवल उनसे पूछा था कि क्या उन्होंने पैसे लिए हैं।

इतना ही नहीं नई दुनिया के अनुसार टीचर पर आरोप है कि उसने छात्रों को तांत्रिक बुलाकर सच उगलवाने की भी धमकी दी थी। इस पर आरोप पर छात्रा का कहना है कि उसने केवल छात्रों को डराने के लिए यह बात कही थी और उन्हें धमकी देने का उसका कोई इरादा नहीं था। यह पहला मामला नहीं है जहां पर शिक्षक द्वारा किसी छात्रा के साथ इस प्रकार की बदसलूकी करने का मामला सामने आया है। इससे पहले भी ऐसे कई मामले सामने आते रहे हैं लेकिन इन केसों पर लगाम लगाने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App