ताज़ा खबर
 

कांग्रेस प्रवक्ता बोले- RSS के लोग शादी नहीं करते इसलिए बलात्कार करते हैं

मानक अग्रवाल ने कहा है कि एमपी में मध्यप्रदेश में बलात्कार की घटनाओं में बढ़ोतरी इसलिए हुई है क्योंकि संघ और भाजपा के लोग इसमे शामिल हैं। इतना ही नहीं मानक अग्रवाल ने दावा किया है कि उनके पास इस बात के सबूत हैं।

मानक अग्रवाल, कांग्रेस नेता

इधर कांग्रेस प्रवक्ता मानक अग्रवाल ने एक विवादित बयान दे दिया है। मानक अग्रवाल को अभी हाल ही में मध्यप्रदेश कांग्रेस का नया मीडिया प्रभारी बनाया गया है। मानक अग्रवाल ने कहा है कि मध्यप्रदेश में बलात्कार की घटनाओं में बढ़ोतरी इसलिए हुई है क्योंकि संघ और भाजपा के लोग इसमे शामिल हैं। इतना ही नहीं मानक अग्रवाल ने दावा किया है कि उनके पास इस बात के सबूत हैं।

क्या कहा मानक अग्रवाल ने ? ‘महिलाओं के ऊपर अत्याचार हो रहे हैं। आए दिन रेप की घटनाएं बढ़ रही है। पूरे देश में रेप की घटनाओं में तीसरे नंबर पर है मध्यप्रदेश। जो लोग पकड़े जाते हैं उनको छोड़ दिया जाता है। जितने रेप के मामले मध्यप्रदेश में हो रहे हैं उसमें भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस के लोग शामिल हैं। मैं तो यहां पर आरोप लगा रहा हूं कि आरएसएस के लोग शादी नहीं करते हैं तो सबसे ज्यादा ऐसी घटनाओं को अंजाम देते हैं’।

इधर मानक अग्रवाल के इस बयान के बाद भाजपा ने भी इसपर तीखी प्रतिक्रिया दी है। भाजपा के प्रदेश महासचिव विष्णुदत्त शर्मा ने इसे मानक अग्रवाल को मानसिक दिवालियेपन का शिकार बतला दिया है। विष्णुदत्त शर्मा ने मानक अग्रवाल से यह सवाल पूछा कि वो यह बतलाएं कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी शादी नहीं की है। क्या वो भी ऐसा करते हैं? आपको बता दें कि मानक अग्रवाल पार्टी में लंबे अरसे से हाशिये पर थे। आज तक कोई भी चुनाव नहीं जीत सके मानक अग्रवाल को कमलनाथ के मध्यप्रदेश कांग्रेस का अध्यक्ष बनने के बाद मीडिया प्रभारी बनाया गया है।

मानक अग्रवाल ने इटारसी में एक प्रेस वार्ता के दौरान यह बयान दिया है। इस दौरान उन्होंने शिवराज सिंह चौहान पर किसानों की अनदेखी करने का आरोप भी लगाया। उन्होंने कहा कि चौहान सरकार राज्य में किसानों का भला कर पाने में पूरी तरह विफल रही है। मानक अग्रवाल ने भ्रष्टाचार के मुद्दे पर भी शिवराज सिंह सरकार को घेरा। फिलहाल भाजपा आरएसएस पर उनके इस बयान के बाद राज्य की सियासत गरमा गई है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App