Rejected because I had a tattoo of Modi, Shivraj on my chest: MP Man - Jansatta
ताज़ा खबर
 

आर्मी में रिजेक्‍ट हुए शख्‍स ने लगाया आरोप, मोदी, शिवराज के टैटू की वजह से नहीं मिली नौकरी

दसवीं पास सौरभ ने कहा कि अधिकारियों ने सीना मापने के दौरान उसका टैटू देखकर उसे रिजेक्‍ट कर दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शिवराज सिंह चौहान। (Source: PIB/Twitter)

मध्‍य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले के एक युवक ने भारतीय सेना पर भेदभाव का आरोप लगाया है। उसका कहना है कि सेना ने उसे इसलिए खारिज कर दिया क्‍योंक‍ि उसकी छाती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का टैटू था। सौरभ बिलगैयां नाम का यह शख्‍स अब दोनों नेताओं से मिलकर पूछता चाहता है कि उसे बाहर का रास्‍ता क्‍यों दिखाया गया। उसने टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत में बताया, ”मुझे किसी विभाग में कमी की वजह से नहीं निकाला गया। बल्कि एक टैटू की वजह से जिसमें लिखा है, जब तक सूरज चांद रहेगा, शिवराज मामा और मोदी का नाम रहेगा।” सौरभ ने बताया कि वह पांच बार सेना में भर्ती होने की कोशिश कर चुका है। सौरभ ने बताया, ”2014 में मैं, महाराष्‍ट्र के पुणे के नजदीक कराड़ी गया, जहां मैं डिसक्‍वालिफाई हो गया। इसके बाद मैं अनुप्‍पुर और गुना आर्मी कैंप में गया, मगर वही चीज हुई।” दसवीं पास सौरभ ने कहा कि अधिकारियों ने सीना मापने के दौरान उसका टैटू देखकर उसे रिजेक्‍ट कर दिया। लोकसभा चुनाव 2014 के चुनाव प्रचार के दौरान सौरभ मोदी से प्रभावित हुआ था। वह शिवराज सिंह चौहान का भी मुरीद है। उसने दोनों का टैटू फरवरी 2014 में कराया था।

नरेंद्र मोदी लोकसभा चुनावों में भाजपा को पूर्ण बहुमत दिलाने में सफल रहे थे। उनके नेतृत्‍व में पार्टी ने दस सालों का सत्‍ता का सूखा समाप्‍त किया। दूसरी तरफ, शिवराज सिंह चौहान मध्‍य प्रदेश में भाजपा के सर्वमान्‍य नेता है। पार्टी के भीतर उन्‍हें नरेंद्र मोदी की ही तरह भविष्‍य के प्रधानमंत्री के तौर पर देखा जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App