ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश: ‘बदला लेने’ के लिए शेरों के बाड़े में घुस गया यह शख्स

बाद में आरोपी को हिरासत में लेकर पुलिस के हवाले कर दिया है।
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फोटो सोर्स रॉयटर्स)

मध्य प्रदेश में एक शख्स शेरों को सबक सिखाने के लिए उनके बाड़े में घुस गया। हैरानी की बात यह है कि शख्स बिना की किसी खरोंच के सुरक्षित वापस भी आ गया है। शख्स की पहचान इंदौर निवासी कैलाश वर्मा के रूप में की गई है। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार कैलाश वीर सावरकर नगर स्थित कमला नेहरू प्राणी संग्रहालय (जू) पहुंचे थे। करीब एक बजे उन्होंने सुरक्षा रेलिंग पार कर शेरों के बाड़े में छलांग लगा दी। खबर के अनुसार ग्रामीणों पर हमले के कारण उन्होंने शेरों को सबक सिखाने का निर्णय लिया था। कैलाश इस दौरान अपने साथ सांपों से भरा एक पैकेट भी लेकर गए थे।

बफर जोन और करीब 18 फीट दीवार कूद पर कैलाश उस स्थान पर भी पहुंच गए जहां मेघा और बिजली नाम के दो शेर अपने चार बच्चों के संग बैठे आराम कर रहे थे हालांकि इससे पहले शेरों और कैलाश का सामना होता जू में मौजूद सुरक्षा अधिकारियों ने उन्हें देख लिया है और समय रहते किसी भी अप्रिय घटना को होने से रोक लिया गया। बाद में कैलाश वर्मा को हिरासत में लेकर पुलिस के हवाले कर दिया गया। जहां कैलाश से पुलिस और जू के सुरक्षा अधिकारियों ने पूछताछ की।

मामले में जू इंचार्ज डॉक्टर उत्तम कुमार का कहना है, ‘शख्स ने बताया कि उसने टीवी पर शेरों को ग्रामीणों पर हमला करते हुए देखा था। भगवान ने उसे सपने में शेरों से बदला लेने का आदेश दिया था। जिसपर उसने शेरों को सबक सिखाने का निर्णय लिया।’ उत्तम कुमार ने आगे बताया कि आरोपी शख्स के खिलाफ वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट के तहत कार्रवाई की जाएगी। आरोपी के परिजनों को इसकी जानकारी दे दी गई है। दूसरी तरफ स्थानीय पुलिस स्टेशन की मंजू यादव का कहना है कि हम आरोपी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करेंगे अगर जू सुरक्षाअधिकारियों की तरफ से इसकी शिकायत की जाएगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App