ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश: नदी में तैरती मिली 5 साल की बच्ची की लाश, पुलिस को शक- रेप की कोशिश हुई

बच्ची के दादा ने दावा किया कि सुबह दो बजे तक उन्होंने बच्ची को उसकी दादी के पास सोते हुए पाया। करीब पांच बजे जब वह दोबारा उठे बच्ची गायब थी। दादा ने अलार्म बजाया और पुलिस को सूचना दी।

Author नई दिल्ली | Published on: June 8, 2019 9:38 AM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है।

मध्य प्रदेश के उज्जैन में एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है, जहां ईंट भट्टे पर सो रहे एक परिवार के साथ सो रही पांच वर्षीय बच्ची को अपहरण कर लिया गया। बाद में बच्ची की शुक्रवार (7 जून, 2019) तड़के भूखी माता क्षेत्र में पत्थर से कुचल हत्या कर दी गई। पुलिस जब बच्ची की तलाश कर रही थी तब खून से लथपथ उसका शव दोपहर में एक पुल के पास क्षिप्रा नदी में तैरता हुआ मिला। शव के निजी अंगों और सिर पर चोट के निशान थे। पुलिस को शक है कि हमलावरों ने बलात्कार की कोशिश की थी और डर की वजह से नदी में फेंकने से पहले पत्थर से कुचलकर उसकी हत्या कर दी।

महाकाल पुलिस स्टेशन के इंचार्ज अरविंद सिंह तोमर एक अखबार को बताया, ‘ईंट भट्टे के पास एक झोपड़ी में बच्ची अपने माता-पिता, दादा-दादी और चार भाई-बहनों (5-9) के साथ रही थी। झोपड़ी ईंट भट्टा मालिक ने प्रवासी मजदूरों को मुहैया कराई थी।’ तोमर ने आगे बताया कि इलाके में करीब एक दर्जन ईंट भट्टा हैं और इनमें सैकड़ों की तादाद में आसपास के मजबूर काम करते हैं। तोमर के मुताबिक, ‘बच्ची के दादा ने दावा किया कि सुबह दो बजे तक उन्होंने बच्ची को उसकी दादी के पास सोते हुए पाया। करीब पांच बजे जब वह दोबारा उठे बच्ची गायब थी। दादा ने अलार्म बजाया और पुलिस को सूचना दी।’

बच्ची के गुमशुदा होने की सूचना मिलने के बाद पुलिस डॉग स्कॉड के साथ घटनास्थल पर पहुंची। डॉग्स ने झोपड़ी के 200 मीटर के दायरे में सूंघा। इंस्पेक्टर के मुताबिक बच्ची के परिजनों ने बाद में जानकारी दी कि डॉग्स जहां खोज रहे वहां बच्ची अपने दोस्तों के साथ खेलने के लिए भी गई थी। इस दौरान बच्ची का खोजी अभियान जारी रहा और तभी क्षिप्रा नदी में एक शव होने की सूचना मिली। परिजनों ने पीड़िता की पहचान उनकी बेटी के रूप में की। शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

एडिशनल एसपी नीरज पांडे बताया कि पोस्टमार्टम के लिए तीन डॉक्टर्स की टीम का गठन किया गया है। शुरुआती जांच में उसके निजी अंगों पर चोट के निशाने होने की बात कही गई है। इससे बच्ची पर यौन हमले का शक गहराता है। हालांकि डॉक्टर्स ने अभी इस बात की पुष्टि नहीं की है कि बच्ची के साथ बलात्कार हुआ है। बता दें कि पुलिस ने झोपड़ी के पास शराब की खाले बोलतें भी बरामद की हैं। शक है कि इनमें से एक हमलावर होगा। पीड़िता की पतलून भी वहीं पाई गई। मामले में जांच शुरू कर दी गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories