ताज़ा खबर
 

कांग्रेसी नेताओं ने टॉयलेट के बाहर रखी राजीव गांधी की तस्वीर, वीडियो हुआ वायरल

कार्यक्रम के बाद कांग्रेस दफ्तर में ही पूर्व पीएम की तस्वीर लावारिस हो गई। नेता कार्यक्रम के बाद अपने घर चले गये। लेकिन राजीव गांधी की तस्वीर को सही जगह पर रखने की जहमत किसी ने नहीं उठाई। नतीजा यह हुआ कि ये हुआ कि अगले ही दिन राजीव गांधी की तस्वीर टॉयलेट के दरवाजे पर रखी नजर आई।

टॉयलेट के बाहर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तस्वीर (फोटो- वीडियो ग्रैब)

मध्यप्रदेश में देश के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तस्वीर के साथ कांग्रेस के नेताओं ने घोर लापरवाही कर दी। 21 मई को भोपाल में कांग्रेस दफ्तर में राजीव गांधी की पुण्यतिथि मनाई गई थी। इस मौके पर बड़ा आयोजन हुआ था, उनकी तस्वीर पर पुष्प अर्पित कर कांग्रेस नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी थी। लेकिन इस कार्यक्रम के बाद कांग्रेस दफ्तर में ही पूर्व पीएम की तस्वीर लावारिस हो गई। नेता कार्यक्रम के बाद अपने घर चले गये। लेकिन राजीव गांधी की तस्वीर को सही जगह पर रखने की जहमत किसी ने नहीं उठाई। नतीजा यह हुआ कि ये हुआ कि अगले ही दिन राजीव गांधी की तस्वीर टॉयलेट के दरवाजे पर रखी नजर आई। मौके पर पहुंचे मीडियाकर्मियों ने इसकी सूचना कांग्रेस नेताओं को दी। इसके बाद कांग्रेस दफ्तर में हड़कंप मच गया। हालांकि कांग्रेस नेता इसके बाद सफाई देते नजर आए। कांग्रेस नेता मानक अग्रवाल ने कहा कि ये किसी की शरारत है और तस्वीर को तुरंत हटा लिया जाएगा।

मानक अग्रवाल के मुताबिक दफ्तर में निर्माण कार्य चल रहा था। उन्होंने कहा, “इसके पीछे शरारती तत्वों का हाथ है, उनकी तस्वीर वहां से हटा दी जाएगी।” इसके अलावा उन्होंने कहा कि ये पीसीसी दफ्तर की देख रेख करने वाले कार्यकर्ताओं की लापरवाही है।  मानक अग्रवाल ने कहा कि जांच के बाद जिम्मेदार कार्यकर्ता के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।  इस मौके पर मध्यप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष कमलनाथ ने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के शहादत दिवस पर सोमवार को आयोजित श्रद्धांजलि सभाओं में उन्हें पुष्पांजलि अर्पित करते हुए कहा कि आज चुनौतियों भरा दौर है, क्योंकि यह मोदी का युग किसानों की आत्महत्या का युग है। कमलनाथ ने आगे कहा, “राजीव गांधी के युग में विश्व के परिदृश्य में भारत को जोड़ने की चुनौती थी। जब वे 21वीं सदी में भारत को ले जाने और कम्प्यूटर की बात करते थे, तो लोग उन पर हंसते थे। लेकिन आज हम कम्प्यूटर और सेलफोन के बिना अपना काम नहीं कर सकते। यह राजीव गांधी की दूरगामी सोच का परिणाम है।”

प्रदेश कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि आज मोदी का युग है। यह युग किसानों की आत्महत्या का युग है। देश में ही नहीं, पूरे विश्व में किसानों की आत्महत्या में मध्यप्रदेश नंबर एक पर है। नौजवान भटक रहा है, महिलाएं असुरक्षित हैं। कृषि क्षेत्र में निराशा की पराकाष्ठा है, जो पहले कभी नहीं थी। बच्चे कुपोषण के शिकार हैं। समाज का हर वर्ग परेशान है और अपने आप को ठगा सा महसूस कर रहा है। बता दें कि कांग्रेस मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव की तैयारी कर रही है। इस लिहाज से पार्टी हर छोटे-बड़े कार्यक्रम को अपने शक्ति प्रदर्शन से जोड़कर देखती है। कांग्रेस, मध्य प्रदेश में पिछले 15 सालों से सत्ता पर काबिज बीजेपी को बाहर खदेड़ने की कोशिश में है। मध्य प्रदेश में कांग्रेस ने अपने संगठन में बड़ा बदलाव किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App