ताज़ा खबर
 

कांग्रेस का ऐलान- राहुल गांधी की रैली में सबसे ज्यादा भीड़ लाने वाले नेता को देंगे टिकट

हाल ही में आए एक ओपिनियन पोल के आंकड़ों में दावा किया गया है कि कांग्रेस राज्य विधानसभा चुनाव में बीजेपी पर भारी पड़ेगी। आंकड़े यह भी कहते हैं कि राहुल गांधी की लोकप्रियता पहले के मुकाबले बढ़ी है।

Author Updated: May 26, 2018 11:40 AM
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (फोटो सोर्स- पीटीआई फोटो)

मध्य प्रदेश में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने मंदसौर और आसपास के जिलों में उन पार्टी नेताओं के लिए एक दिलचस्प ‘प्रतियोगिता’ शुरू की है, जो पार्टी के टिकट पर किस्मत आजमाना चाहते हैं। इसके मुताबिक, 6 जून को पीपलीमंडी में होने वाली राहुल गांधी की रैली में जो भी ज्यादा भीड़ इकट्ठी करेगा , उसे टिकट मिलेगा। ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी के सचिव और मध्य प्रदेश प्रभारी संजय कपूर ने मंदसौर, रतलाम, नीमच और उज्जैन से आए नेताओं के बीच गुरुवार को यह ऐलान किया। उन्होंने कहा, ‘अपनी ताकत दिखाएं। जो राहुलजी की रैली में ज्यादा लोगों को ला सकते हैं, उन्हें टिकट मिलेगा। जो ऐसा करने में नाकाम होते हैं, वे समझ सकते हैं कि उन्हें टिकट क्यों नहीं मिल सकता।’

दरअसल, कांग्रेस के नेता 6 जून को राहुल की रैली में किसानों को जुटाने की रणनीति तय करने के लिए इकट्ठे हुए थे। पिछले साल पुलिस फायरिंग में मारे गए किसानों को श्रद्धांजलि देने के लिए इस कार्यक्रम का आयोजन होगा। कपूर ने इस रैली को विधानसभा चुनाव के मद्देनजर कांग्रेसी चुनावी अभियान का ‘लॉन्च’ करार दिया। उन्होंने कहा,’ हमने हर असेंबली क्षेत्र के लिए ऑब्जर्वर की नियुक्ति की है। अपने बैनर और पोस्टर तले भीड़ लाइए और अपना काम दिखाइए। आब्जर्वर को बताइए। वे रिकॉर्ड रखेंगे।’ बता दें कि कांग्रेस मंदसौर को अपने चुनावी कैंपेन के केंद्र के तौर पर पेश करना चाहती है। कांग्रेस नेताओं को उम्मीद है कि राहुल की रैली में 2 लाख लोगों की भीड़ इकट्ठी की जा सकती है।

बता दें कि हाल ही में आए एक ओपिनियन पोल के आंकड़ों में दावा किया गया है कि कांग्रेस राज्य विधानसभा चुनाव में बीजेपी पर भारी पड़ेगी। आंकड़े यह भी कहते हैं कि राहुल गांधी की लोकप्रियता पहले के मुकाबले बढ़ी है। कर्नाटक में बीजेपी को सत्ता से दूर रखते हुए जेडीएस के साथ सरकार बनाने के बाद कांग्रेस आत्मविश्वास से लबरेज है। इससे पहले, गुजरात विधानसभा चुनाव और राज्यसभा चुनाव में भी पार्टी ने बीजेपी को कड़ी टक्कर दी थी। ऐसे में बीजेपी के गढ़ माने जाने वाले मध्य प्रदेश के अलावा राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव कांग्रेस के नजरिए से बेहद अहम हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 कांग्रेसी नेताओं ने टॉयलेट के बाहर रखी राजीव गांधी की तस्वीर, वीडियो हुआ वायरल