ताज़ा खबर
 

भोपाल: किले के दरवाजे को मस्जिद बताने पर शहर में तनाव, CM चौहान ने कहा- फिजा बिगाड़ने वाले कुचल दिए जाएंगे

हमीदिया अस्पताल परिसर के जिस हिस्से को मस्जिद बताकर नमाज पढने की बात कही जा रही है। वो जगह फतेहगढ किले का पुराना दरवाजा है।

Author Updated: June 1, 2017 3:11 PM
मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान। (एक्सप्रेस फोटो)

भोपाल के मिश्रित आबादी वाले इलाकों में मंगलवार देर रात दो समुदायों के बीच झड़प और पथराव होने के बाद शहर में तनाव बना हुआ है। उप्रदवियों ने लगभग एक दर्जन वाहनों और कुछ दुकानों में आग लगा दी। पथराव में पुलिसकर्मियों सहित कुछ लोग घायल हुए हैं। स्थिति को काबू में करने के लिये पुलिस को आंसूगैस के गोले छोड़ने पड़े तथा हवाई फायर भी करने पड़े। देर रात के बाद पुराने भोपाल में तनाव व्यप्त होने से पूरे इलाके मेें पुलिस और आरपीएफ के जवान तैनात कर सुरक्षा व्यस्था कड़ी कर दी गयी। दो दिन पहले विवाद तब शुरु हुआ था जब पुराने भोपाल में स्थित हमीदिया अस्पताल के नये भवन के निर्माण की खुदाई के दौरान एक ढांचा निकलने के बात सामने आई थी।

दोनों समुदायों के लोगों ने इस ढांचे को अपने से सम्बद्ध बताते हुए इस पर अपना दावा जताना शुरु कर दिया। इससे दोनो समुदायों के बीच तनाव बढ़ता ही गया और सोशल मीडिया ने अफवाहों को फैलाकर आग में घी का काम किया । हालांकि भोपाल प्रशासन ने साफ कर दिया है कि की विवादित इबादतगाह किले का दरवाजा है मस्जिद नहीं है। भोपाल प्रशासन ने आज प्रेस से बात कर विशेषज्ञों की मदद से बताया कि हमीदिया अस्पताल परिसर के जिस हिस्से को मस्जिद बताकर नमाज पढने की बात कही जा रही है। वो जगह फतेहगढ किले का पुराना दरवाजा है और उस दरवाजे पर प्रथम विश्व युद्ध में जाने वाले सिपाहियों की यादगार में शिलालेख भी लगा है। इस शिलालेख के अनुसाल अंग्रेज सरकार ने यहीं से कई भारतीय सिपाहियों के युद्ध में भाग लेने के लिए भेजा था जिनमें से कई सिपाही युद्ध में शहीद हो गए थे। उन्ही सिपाहियों के नाम शिलालेख में लिखे हैं।

मुस्लिम समाज द्वारा नमाज पढ़ने की जिद करने और हिंदूवादी संगठनों द्वारा पास के मंदिर में पूजा करने की बात कहने पर दोनों समुदायों में विवाद बढ़ गया।हालांकि अभी शहर में शांति सभी संवेदनशील जगहों पर पुलिस तैनात कर दी गयी है।  पुलिस अधीक्षक अरविंद सक्सेना ने कहा कि, ‘‘पुलिस ने 8 लोगों को हिरासत में लिया है।’’ उन्होंने बताया कि दोनों समुदायों के सदस्यों को आपस में बातचीत के द्वारा तनाव कम कराने के प्रयास किये जा रहा हैं। जिला कलेक्टर निशांत वरवड़े ने कहा, ‘‘स्थिति शांतिपूर्ण है।’’ इस बीच ऐहतियात के तौर पर पुराने शहर में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। वहीं  सीएम शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार को कहा कि शहर की फिजा अगर किसी ने खराब करने की कोशिश की, तो वह कुचल दिये जाएंगे। चौहान ने शहर में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा, ‘शहर की फिजा अगर किसी ने खराब करने की कोशिश की, तो वह कुचल दिये जाएंगे। साफ संदेश सरकार का है।’’

काबुल में बम धमाका, भारतीय दूतावास की टूटी खिड़कियां

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 VIDEO: रेलवे ट्रैक के पास पड़े मां के शव से लिपट दूध पीता रहा मासूम, देखकर भावुक हो उठे लोग
2 आजम की भैंस के बाद अब सपा सांसद की बकरियां खोजने में लगी पुलिस, 24 घंटे में ढूंढ निकाली 17 बकरी
3 मध्य प्रदेश: भाजपा सरकार के पूर्व मंत्री के बेटे को किया गया पांच जिलों से तड़ीपार, प्रशासन ने दी 48 घंटे में जिलाबदर होने की नोटिस
जस्‍ट नाउ
X