ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश: खुले में शौच करने पर फिर एक शख्स की पिटाई, कांग्रेस ने सीएम से पूछा- गरीबों के साथ ऐसी घटना क्यों ?

जहां एक तरफ शौचालय बनावने के नाम पर प्रदेश में अफसर कागजों में झूठे आंकड़े दिखाकर वाह-वाही लूट रहे हैं वहीं गांव की गरीब जनता को खुले में शौच जाने पर पीटा जा रहा है।

Author भोपाल | March 3, 2017 1:07 PM
बिहार में पुलिसकर्मी ने वैन ड्राइवर की बेरहमी से पिटाई कर डाली। (सांकेतिक तस्वीर)।

मध्य प्रदेश में स्वच्छता अभियान के तहत शौचालय निर्माण का कार्य पूरा नहीं हो पाया है। वहीं शौचालय के अभाव में खुले में शौच करने को मजबूर एक व्यक्ति की फिर पिटाई किए जाने का मामला सामने आया है। इस व्यक्ति की पहले तो कुछ व्यक्तियों ने पिटाई की और फिर इसके बाद उसे जेल भिजवा दिया। एबीपी की खबर के अनुसार इस घटना के सामने आने के बाद कांग्रेस के एक नेता ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से इस प्रकार की घटनाओं पर रोक लगाने की मांग की है और पूछा है कि गरीबों के साथ ऐसा क्यों किया जा रहा है? मध्य प्रदेश में खुले में शौच करने पर पिटाई का यह पहला मामला नहीं है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के तहत प्रदेश में नगरपालिकाओं को पैसे दिए गए हैं कि वे गांवों में शौचालय बनवाने का काम करें, लेकिन कई गांवों में शौचालय के निर्माण का काम पूरा ही नहीं हुआ है। प्रदेश में कई गांव ऐसे भी हैं जहां पर शौचालय तो बने है लेकिन वहां पर शौचालय के लिए टैंक नहीं डलवाए गए हैं। एक तरफ शौचालय बनावने के नाम पर प्रदेश में अफसर कागजों में झूठे आंकड़े दिखाकर वाह-वाही लूट रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ गांव की गरीब जनता को खुले में शौच जाने पर पीटा जा रहा है।

मध्य प्रदेश में इससे पहले भी खुले में शौच करने वाले लोगों की पिटाई करने और उन्हें सबके सामने बेइज्जत करने के मामले सामने आए हैं। सीहोर जिले के जावर नगर पंचायत अध्यक्ष ने एक युवक को खुले में शौच करते हुए पकड़ लिया था। उसके बाद उसे न सिर्फ सरेआम बेइज्जत किया गया बल्कि उससे उठक-बैठक भी लगवाई गई। इसके बाद उस व्यक्ति का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। वहीं इससे पहले भी उज्जैन में एक बुजुर्ग से जबरन मल उठवाने का मामला सामने आ चुका है।

आपको बता दें कि हमारे देश में 15 करोड़ से ज्यादा लोगों के घरों में शौचालय नहीं है और उन्हें मजबूरी में खुले में शौच करने के लिए जाना पड़ता है। 2019 तक केंद्र सरकार ने देश में 11 करोड़ 70 लाख शौचालय बनवाने का लक्ष्य रखा है। वहीं मध्य प्रदेश में 92 प्रतिशत गांव ऐसे हैं जहां पर शौचालय निर्माण का काम पूरा नहीं किया गया है।

देखिए वीडियो - खुले में शौच की मिली सजा; सबके सामने उतरवाई पेंट, लगवाई उठक बैठक

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App