ताज़ा खबर
 

आरोपी ने थाने में ही पुलिस ऑफिसर के सिर पर दे मारा कुदाल, देखें डराने वाला वीडियो

ऊमरी थाने में उपद्रव के आरोपी ने पुलिसकर्मियों पर पीछे से गैंती से हमला कर दिया। इस हमले में दो पुलिसक​र्मी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है। जबकि एक अन्य आरोपी की तलाश की जा रही है।

Author September 11, 2018 3:41 PM
थाने के भीतर पुलिसकर्मियों पर हमला करता हमलावर। फोटो- वीडियो स्‍क्रीनशॉट

मध्य प्रदेश के भिंड जिले के ऊमरी थाने में उपद्रव के आरोपी ने पुलिसकर्मियों पर पीछे से गैंती से हमला कर दिया। इस हमले में दो पुलिसक​र्मी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। पुलिस ने आरोपी को जेल भेज दिया है। जबकि एक अन्य आरोपी की तलाश की जा रही है। हमले में घायल दोनों पुलिसकर्मियों की हालत नाजुक बताई जा रही है। एक सिपाही का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। जबकि दूसरे सिपाही को पहले ग्वालियर फिर दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में रेफर किया गया है। पुलिस ने ऊमरी थाने में 2 आरोपियों पर हत्या के प्रयास और बंदूक लूटने की कोशिश का मामला दर्ज किया है।

नई दुनिया में प्रकाशित खबर के अनुसार, रविवार (9 सितंबर) को भिंड जिले की ऊमरी थाना पुलिस ने बाजार में उत्पात मचा रहे विष्णु सिंह राजावत को पकड़ा था। पुलिस उसे हिरासत में लेकर थाने आ गई। विष्णु राजावत लारौल, रौन का रहने वाला है। जब थाने में पुलिसकर्मी अपने काम में जुटे हुए थे। अचानक विष्णु ने मालखाने में रखी हुई गैंती उठाकर पुलिस कर्मियों पर पीछे से हमला कर दिया।

विष्णु राजावत के इस हमले में 50 वर्षीय हवलदार उमेश बाबू पुत्र ठकुरी प्रसाद निवासी रेखा नगर बुरी तरह से घायल हो गए। इसके बाद विष्णु बाहर की तरफ भागा। उसे भागता देखकर पहरा ड्यूटी पर मौजूद सिपाही 35 वर्षीय गजराज सिंह ने उसे रोकने की कोशिश की। इस पर विष्णु ने गजराज सिंह पर भी गैंती का भरपूर वार किया। इस हमले में सिपाही गजराज सिंह को अच्छी खासी चोट आ गई। विष्णु ने इसके बाद गजराज की बंदूक लूटने की कोशिश की। लेकिन इससे पहले ही थाने में मौजूद सिपाहियों ने उसे पकड़ लिया।

इसके बाद पुलिसकर्मी दोनों को जिला अस्पताल ले गए। जहां से हवलदार उमेश बाबू को पहले ग्वालियर और बाद में दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया। जबकि सिपाही गजराज सिंह का इलाज जिला अस्पताल में ही चल रहा है। इस मामले में सिपाही मयंक दुबे ने ऊमरी थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है। इस हमले में विष्णु सिंह राजावत के अलावा उसके साथी मान सिंह राजपूत पुत्र बलबीर सिंह को भी आरोपी बनाया गया है। ऊमरी पुलिस अब दूसरे आरोपी मान सिंह की तलाश कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App