ताज़ा खबर
 

…जब ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे ने कांग्रेसियों के लिए बनाई आलू टिकिया

महाआर्यमन महज 15 साल के हैं। सिंधिया परिवार की वह चौथी पीढ़ी हैं, जिन्होंने हाल ही में सियासी मैदान में छलांग लगाई है। चूंकि प्रदेश में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं, जिनके लिए ज्योतिरादित्य के बेटे अभी से सक्रिय नजर आ रहे हैं।

गुना से सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे महाआर्यमन 15 साल के हैं। (फोटोः फेसबुक)

कांग्रेसी नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के बेटे ने कांग्रेसियों के लिए आलू की टिकिया बनाई। उन्होंने इस दौरान खुद भी गोल-गप्पों और चाट का स्वाद चखा। बीच सड़क ठेले पर ज्योतिरादित्य के बेटे को टिकिया सेंकते देख हर कोई अचरज में था। मौके पर भारी संख्या में लोग जुट गए थे, जो कांग्रेसी नेता के बेटे को चाट बनाते देख रहे थे।

यह मामला सोमवार (11 जून) का है। मध्य प्रदेश के अशोक नगर जिले में कांग्रेसी सांसद के बेटे महाआर्यमन एक दिवसीय दौरे पर आए थे। वह संजय स्टेडियम से स्टेशन रोड की ओर जा रहे थे। बीच रास्ते में यहां एक चाट का ठेले खड़ा था, जिसके पास अचानक महाआर्यमन की गाड़ी रुकी थी। गाड़ी का दरवाजा खुलते ही महाआर्यमन निकले और ठेले पर जाकर कंछुल संभालने लगे थे।

उन्होंने उस दौरान आलू की टिकिया बनाई और कांग्रेसियों को खिलाई। बाद में खुद भी गोल-गप्पे खाए। ठेले के आसपास कांग्रेसियों के जमावड़े के बीच महाआर्यमन की गतिविधियां देख रहे थे। चाट का स्वाद लेने के बाद वह ठेले वाले को 350 रुपए देकर निकल गए थे।

महाआर्यमन महज 15 साल के हैं। सिंधिया परिवार की वह चौथी पीढ़ी हैं, जिन्होंने हाल ही में सियासी मैदान में छलांग लगाई है। चूंकि प्रदेश में इस साल विधानसभा चुनाव होने हैं, जिनके लिए ज्योतिरादित्य के बेटे अभी से सक्रिय नजर आ रहे हैं। उन्होंने अभी से पिता के साथ हर चुनावी सभा में जाना शुरू कर दिया है।

शिवपुरी में इससे पहले शनिवार को वह युवा संवाद कार्यक्रम में शरीक हुए। उन्होंने तब चुनावी भाषण भी दिया, जिसमें खुलकर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) पर प्रहार किया। आरोप लगाया कि बीजेपी झूठ की राजनीति करती है।

महाआर्यमन के मुताबिक, वह लोग इस बार प्रदेश में राजनीति का चेहरा बदलेंगे। उन्होंने कार्यक्रम के दौरान युवाओं में जोश भरने के लिए एक गाना भी गाया। युवाओं को उन्होंने इसके साथ ही हिदायत दी कि वे ईमानदारी और निष्ठापूर्वण कार्य करें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App