ताज़ा खबर
 

बीफ के शक में पिटाई: महिला कांग्रेस नेता ने मोदी सरकार को लपेटा, टि्वटर यूजर्स ने पूछा- वहां किसकी सरकार?

मध्यप्रदेश में बीफ ले जाने के शक में दो युवकों की पिटाई का मामले में महिला कांग्रेस नेता ने मोदी सरकार पर सवाल उठाया। इस पर ट्विटर यूजर्स ने मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार होने का हवाला दिया।

युवक को पेड़ से बांध कर पिटाई करते हुए संदिग्ध गोरक्षक। (फोटोः वीडियो स्क्रीनशॉट)

मध्यप्रदेश में दो युवकों को बीफ ले जाने के शक में पीटे जाने का मामला सामने आया है। प्रदेश के सिवनी जिले में 5 संदिग्ध गोरक्षकों द्वारा इनमें से एक युवक को पेड़ से बांधकर पीटे जाने और जय श्रीराम का नारा लगाने पर मजबूर किया गया। यह जानकारी मध्यप्रदेश पुलिस ने दी।

सोशल मीडिया पर सर्कुलेटेड एक वीडियो क्लिप में एक युवक को पिटते हुए दिखाया गया है। युवक के साथ एक महिला भी है। साथ ही युवक से जय श्रीराम का नारा लगाने को बाध्य किया जा रहा है। इस घटना के बारे में कांग्रेस की महिला नेता ने ट्विटर के जरिये उठाया।

महिला ने ट्वीट कर लिखा, ‘नरेंद्र मोदी के नए शासनकाल का एक दिन और हम देख रहे हैं कि मुस्लिमों को पीटा जा रहा है… क्या यह वहीं नया भारत है जिसका आपने वादा किया था प्रधानमंत्री?’ हालांकि, कांग्रेस की महिला नेता के इस ट्वीट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स ने सवाल उठाया। लोगों ने पूछा कि मध्यप्रदेश में किसकी सरकार है? राज्य सरकार ने क्या कार्रवाई की है? घटना 22 मई को डुंडा सिवनी इलाके की है।

पुलिस का कहना है तीन युवक जिन्हें पीटा गया था उनकी पहचान तौफिक, दिलीप मालवीय और अंजुम शमा के रूप में हुई है। पुलिस ने कहा कि संदिग्ध गौरक्षकों की तरफ से इनके द्वारा ऑटो रिक्शा और टूव्हीलर के जरिये बीफ ले जाने के दावे के बाद से गिरफ्तार किया गया। इन लोगों के खिलाफ मध्यप्रदेश गोवंश वध प्रतिषेध अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है।

घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पुलिस ने कथित 5 गोरक्षकों को भी गिरफ्तार किया। इन पांच लोगों की पहचान शुभम बघेल, योगेश, दीपेश नामदेव, रोहित यादव और श्याम देहरिया के रूप में हुई है। इन पांच लोगों को शनिवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया। इन लोगों ने खुद को श्रीराम सेना का सदस्य बताया है। इनमें से एक युवक बघेल पहले भी आदतन अपराधी रहा है।

इसने ही अपने फेसबुक पेज से युवक की पिटाई का वीडियो शेयर किया था। इस युवक ने हाल ही में भोपाल से सांसद चुनी गई साध्वी प्रज्ञा के साथ अपनी तस्वीर को भी फेसबुक पर पोस्ट किया था। हालांकि, ठाकुर की टीम के सदस्य ने कहा है कि वह इस युवक को नहीं जानते हैं। इस बीच शिवनी के एसपी ललित शाक्यवार ने कहा कि तीनों के पास से जब्त मीट प्रथम दृष्ट्या बीफ लग रहा है लेकिन इसे जांच के लिए हैदराबाद लेबोरेट्री भेजा गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X