ताज़ा खबर
 

रेप के बाद मर्डर, तीन दिन पड़ी रही लाश, पोस्‍टमॉर्टम में प्राइवेट पार्ट से निकली बोतल

पुलिस ने बताया कि महिला की मौत कम से कम तीन दिन पहले हुई, लेकिन उनका शव गुरुवार (17 मई) को बरामद किया गया था। वह शहर के आशोक नगर इलाके में एक अन्‍य व्‍यक्ति के साथ रहती थी। मुख्‍य आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

मध्‍य प्रदेश में एक महिला से रेप कर उसकी हत्‍या कर दी गई। (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर)

मध्‍य प्रदेश में बलात्‍कार के मामलों में फांसी की सजा का प्रावधान किया गया है। इसके बावजूद महिलाओं के साथ बर्बरता की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। राज्‍य की राजधानी भोपाल में हैवानियत का ऐसा ही एक मामला सामने आया है। एक महिला की नग्‍न लाश उनके कमरे से बरामद की गई है। मेडिकल जांच में उनके प्राइवेट पार्ट से बीयर की बोतल मिली है। पुलिस ने बताया कि महिला की मौत कम से कम तीन दिन पहले हुई, लेकिन उनका शव गुरुवार (17 मई) को बरामद किया गया था। वह शहर के आशोक नगर इलाके में एक अन्‍य व्‍यक्ति के साथ रहती थी। दोनों दिहाड़ी मजदूर थे। पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, महिला के साथ पहले रेप किया गया और उसके बाद बीयर की बोतल व सॉफ्ट ड्रिंक के केन से उसपर हमला किया गया। डॉक्‍टरों के मुताबिक, ये दोनों वस्‍तुएं महिला के प्राइवेट पार्ट से बरामद किए गए हैं। उनके सिर पर भी चोट के निशान पाए गए हैं। डॉक्‍टरों को संदेह है कि आरोपी ने महिला के सिर को दीवाल पर दे मारी होगी।

आरोपी गिरफ्तार: ‘एनडीटीवी’ के अनुसार, हत्‍या की घटना को अंजाम देने के बाद महिला के साथ रहने वाला व्‍यक्ति फरार हो गया था। पुलिस ने 17 मई को उसे भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी नशे की हालत में था। उसने पुलिस को बताया कि महिला उसकी चौथी पत्‍नी थी। पुलिस ने बताया कि उसकी दो पत्नियों ने उसे छोड़ दिया था, जबकि तीसरी पत्‍नी की संदिग्‍ध स्थिति में मौत हो गई थी। दोनों को जानने वाले लोगों ने बताया‍ कि आरोपी को महिला का पड़ोसी के साथ संबंध होने का संदेह था। वह पड़ोसी भी गायब बताया जा रहा है। दरअसल, आसपास रहने वाले लोगों ने संदेह होने पर पुलिस को इसकी सूचना दी थी। मौके पर पहुंची पुलिस को कमरे का दरवाजा तोड़कर अंदर दाखिल होना पड़ा था। बता दें कि भोपाल में एक नाबालिग से रेप की घटना के बाद राज्‍य सरकार ने ऐसे मामलों में मौत की सजा का प्रावधान क‍र दिया था। केंद्र सरकार ने भी अध्‍यादेश लाकर 12 वर्ष या उससे कम उम्र की बच्‍ची से दुष्‍कर्म करने के मामले में फांसी की सजा का प्रावधान कर दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App