ताज़ा खबर
 

आेबामा का सिग्‍नचेर कर बनाई NASA की फर्जी आईडी, SP को पत्र लिखकर कहा- मेरा सम्‍मान किया जाए

अंसर खान ने बारहवीं तक पढ़ाई की है। उसने दावा किया था कि वह नासा के 'स्पेस एंड फूड' प्रोग्राम के साथ जुड़ा है और उसकी सालाना सैलरी 1.85 करोड़ रुपये है।

Madhya Pradesh Police, Ansar Khan, Nasa, Nasa's Space and Food Program, Barack Obama Forge Signature, Kamalpur Police Station, Nasa's fake identity card, Man Arrested for his false claim of working with Nasaमध्य प्रदेश पुलिस ने अमेरिकी अंतरीक्ष एजेंसी नासा में काम करने का झूठा दावा करने वाले अंसर खान नाम के एक 20 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया है।

मध्य प्रदेश पुलिस ने अमेरिकी अंतरीक्ष एजेंसी नासा में काम करने का झूठा दावा करने वाले अंसर खान नाम के एक 20 वर्षीय युवक को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने अंसर के पास से अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के हस्ताक्षर वाला एक नकली आइडेंटिटी कॉर्ड भी बरामद किया है। पुलिस ने बताया है कि अंसर खान ने बारहवीं तक पढ़ाई की है। उसने दावा किया था कि वह नासा के ‘स्पेस एंड फूड’ प्रोग्राम के साथ जुड़ा है और उसकी सालाना सैलरी 1.85 करोड़ रुपये है। अंसर ने अपना सम्मान करने के लिए कमालपुर प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को न्यौता भी भेजा था।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी शशिकांत शुक्ला ने बताया, ‘मेरे पास अंसर खान का पत्र आया था। उसने मुझे नासा में कार्यरत होने की बात बतायी और खुद का सम्मान करने के लिए मुझे निमंत्रण भेजा। उसने मुझे नासा की ओर से जारी आइडेंटिटी कार्ड की कॉपी भी भेजी थी जिस पर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का हस्ताक्षर था। ओबामा का सिग्नेचर देखने के बाद मुझे शक हुआ और मैने अंसर के बारे में छानबीन करने का आदेश दिया।’ पुलिस को छानबीन में पता चला कि अंसर खान का दावा झूठा था और उसने कई लोगों से यह कहकर पैसे उधार ले रखे थे कि जब उसे नासा से सैलरी मिलेगी वो उनका पैसा लौटा देगा।

पुलिस ने यह भी बताया कि अंसर ने एक स्थानीय फोटो स्टूडियो से बराक ओबामा के हस्ताक्षर वाला नासा का फर्जी आइडेंटिटी कार्ड बनवाया था। अंसर खान के इस दावे पर उसके स्कूल और कुछ स्थानीय संस्थाओं ने विश्वास कर उसके सम्मान में आयोजन करने का प्लान बनाया था। एक कार्यक्रम में अंसर को स्थानीय विधायक की मौजूदगी में सम्मानित भी कर दिया गया था। फाटो स्टूडियो के मालिक ने पुलिस को बताया कि अंसर ने उसके स्टूडियो में आकर फर्जी आइडेंटिटी कार्ड बनाया था इस बारे में उसे कोई जानकारी नहीं है। हालांकि, अंसर स्टूडियो मालिक से भी नासा में नौकरी लग जाने की बात कहता था। जब फोटो स्टूडियो के मालिक ने उससे अमेरिका जाने की तारीख पूछी तो वो टाल गया। उसके पास पासपोर्ट भी नहीं था।

Read Also: उरी हमला: पाकिस्तान को बेनकाब कर सकती है आतंकवादियों के पास से मिली यह ‘जापानी चीज’

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 मध्य प्रदेश: बीजेपी विधायक कालूसिंह ठाकुर हुए लापता, परिवार ने थाने में दर्ज कराई शिकायत
2 केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री जेपी नड्डा पर एम्‍स में फेंकी गई स्‍याही, ड्राइवर ने छात्राओं पर चढ़ाई कार