ताज़ा खबर
 

एमपी: गुम हुई गाय के बारे में पूछा तो पेड़ से बांध कर तलवार से काट दिया हाथ

घटना के बाद आस-पास सनसनी का माहौल पनप गया। सूचना पर पुलिस वहां पहुंची और फिर जख्मी हालत में शख्स को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया। चूंकि हालत नाजुक थी, लिहाजा पीड़ित को भोपाल रेफर कर दिया गया।

Author September 2, 2018 1:36 PM
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (एक्सप्रेस फोटो)

मध्य प्रदेश में एक हाइवे के पास गाय गुम हो गई। उसके बारे में खोज-खबर करने की कोशिश की गई। पर पूछताछ का अंजाम एक शख्स को बेहद भारी पड़ा। दावा है कि गाय के बारे में सवाल करने वाले को गुस्साए लोगों ने पहले पेड़ से बांधा। फिर उसकी पिटाई की और बाद में तलवार से उसका एक हाथ काट दिया। घटना के बाद आस-पास सनसनी का माहौल पनप गया। सूचना पर पुलिस वहां पहुंची और फिर जख्मी हालत में शख्स को नजदीकी अस्पताल ले जाया गया। चूंकि हालत नाजुक थी, लिहाजा पीड़ित को भोपाल रेफर कर दिया गया।

यह मामला जयपुर-जबलपुर नेशनल हाइवे के पास का है। पुलिस का कहना है कि प्रेम नारायण उर्फ कल्लू (35) पीपलवाली गांव में रहता है। हाल ही में उसकी गाय गुम हो गई थी। गांव में ही रहने वाले सत्तू यादव के यहां पर अपनी खोई हुई गाय के बारे में जानकारी करने पहुंचा। जवाब न मिला, तो कल्लू ने सत्तू को कुछ अपशब्द कह दिए और वहां से चला गया।

अगली सुबह सत्तू, उसका बेटा राजपाल यादव, राहुल यादव, पत्नी शकुन बाई और बाड़ी निवासी सत्तू लोधी ने कल्लू को पकड़कर पेड़ से बांध दिया। आरोप है कि सबने उसकी जमकर पिटाई की, जिसके बाद उन्होंने कल्लू के एक हाथ पर तलवार से वार किया।

किसी तरह इस बारे में पीड़ित के परिजन को इस बारे में मालूम पड़ा। फौरन वे दौड़ते-भागते उसे बचाने आए, जिसके बाद मामला पुलिस के पास पहुंचा। पुलिस इसके बाद पीड़ित को सुल्तानपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर गई थी। पुलिस ने इस मामले में शिकायत दी गई या नहीं, इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।

उधर, उत्तर प्रदेश के कानपुर में हाइवे के पास कथित गोरक्षों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटने का मामला सामने आया है। गोरक्षा करने का दावा करने वाले ये लोग रास्ते में पशु कारोबरियों से वसूली करते थे। हाल ही में उन्हें फतेहपुर से एक वाहन में भैंसें लेकर आ रहे पशु कारोबारी अब्बास से 10 रुपए की मांग की थी। अब्बास ने रकम देने से इन्कार किया, तो इन कथित गोरक्षकों ने उसकी पिटाई कर दी। बाद में गांव वालों को जब इस बारे में पता लगा, तो उन्होंने उन हमलावरों की लाठी-डंडों से जमकर पिटाई की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App