अखिलेश यादव जैसे लोग करते हैं तांडव, शिवराज के मंत्री बोले- हिंदू धर्म पर ही क्यों होती है ऐसी टिप्पणी?

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि जो भी विषय हिंदू धर्म के खिलाफ होता है उस पर अखिलेश यादव जैसे लोग तांडव करते हैं।

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा।

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि जो भी विषय हिंदू धर्म के खिलाफ होता है उस पर अखिलेश यादव जैसे लोग तांडव करते हैं। मिश्रा ने कहा, ”मेरा उनसे सवाल है कि आज तक जितनी भी फिल्में बनी हिंदू धर्म के अलावा कभी किसी धर्म पर टिप्पणी की गई क्या?” उन्होंने कहा, ”तांडव वेब सीरीज में हमारे धर्म पर प्रतिक्रिया व्यक्त की है मैं इसकी निंदा करता हूं और मध्य प्रदेश की सरकार भी इस पर केस दर्ज करेगी। हम निश्चित रूप से इस पर बैन लगाने पर विचार कर रहे हैं।”

उन्होंने कहा, ” जिस तरह से जीशान अयूब, सैफ अली खान, अली अब्बास जफर ने हमारी धार्मिक भावनाओं को लेकर प्रतिक्रिया दी है मैं उसकी निंदा करता हूं। मध्यप्रदेश सरकार केस दर्ज करेगी, बैन लगाने पर भी विचार किया जा रहा है। हम केंद्र सरकार से कहेंगे कि ऐसी नीति बनाए जो कि इस वेब सीरीज पर पाबंदी लगाए जिसमें हमारी धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचाई गई है और अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया गया है।”

मालूम हो कि इस संबंध में तांडव वेब सीरीज के निर्देशक, अमेजन प्राइम वीडियो के इंडिया हेड, अभिनेता, अभिनेत्री और लेखकों के खिलाफ मामला दर्ज़ किया गया है। मामले में SC/ST एक्ट लगा है इसलिए राजपत्रित अधिकारी द्वारा इसकी विवेचना की जाएगी। ये जानकारी ग्रेटर नोएडा के डीसीपी ने दी।

उन्होंने बताया कि थाना रबूपुरा में एक स्थानीय व्यक्ति ने वेब सीरीज तांडव में दिखाए गए दलित अपमान, जातिगत विद्वेष की भावना, धार्मिक भावना भड़काने और उच्च संवैधानिक पदों पर आसीन व्यक्तियों द्वारा गलत वार्तालाप करना दिखाए जाने को लेकर मामला दर्ज़ कराया है।

बता दें कि ‘तांडव’ की टीम ने बिना किसी शर्त के माफी मांगी है। उनका कहना है कि वे किसी की धार्मिक भावना आहत नहीं करना चाहते थे। सीरीज निर्माताओं पर आरोप है कि उन्होंने सीरीज में ऐसे दृश्य दिखाए हैं जिससे कि हिंदू देवी देवताओं का अपमान होता है।

अपनी सफाई में टीम ने ने कहा कि ये सीरीज पूरी तरह से काल्पनिक है। हमारा उद्देश्य किसी व्यक्ति,जाति, समुदाय,नस्ल, धर्म और धार्मिक भावनाओं को चोट पहुंचाना नहीं था। लोगों की नाराजगी को समझते हुए बिना किसी शर्त के माफी मांगी गई है।

Next Stories
1 WhatsApp चैट विवाद: अर्नब गोस्वामी पर कसेगा शिकंजा? महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने कहा- डिटेल पता करा रहे हैं
2 महाराष्ट्र ग्राम पंचायत चुनाव: महाविकास अघाड़ी और भाजपा दोनों ने किये अपने-अपने जीत के दावे, कांग्रेस नेता का दावा- 80 फीसदी सीटें हमने जीतीं
3 PK साबित होंगे गलत? BJP को मिल सकती हैं 100 से अधिक सीटें- ABP-C Voter Survey
ये पढ़ा क्या?
X