ताज़ा खबर
 

भोपाल: सनकी आशिक ने 20 घंटे से लड़की को बना रखा था बंधक, पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद छुड़ाया

मध्य प्रदेश के भोपाल में एक सनकी आशिक ने एक मॉडल को उसी के घर में बंधक बना लिया है और पुलिस उसे छुड़ाने की लगातार कोशिश कर रही है। समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक आरोपी ने पुलिस को बीच में आने पर धमकी दी है।

घंटों के रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद एमपी पुलिस ने सनकी आशिक के चंगुल से युवती को छुड़ाया। (फोटो- एएनआई)

आखिरकार कई घंटों की मशक्कत के बाद मध्य प्रदेश पुलिस एक सनकी आशिक के चंगुल से एक युवती को छुड़ाने में कामयाब हुई। भोपाल के बाहरी इलाके मिसरोद स्थित एक अपार्टमेंट की पांचवीं मंजिल पर अलीगढ़ के रहने वाले रोहित कुमार सिंह नाम के आरोपी ने युवती को करीब 20 घंटों से बंधक बना रखा था। पुलिस ने मीडिया से कहा, ”हमने युवती को बचा लिया है, उसकी हालत स्थिर है, उसे चिकित्सकीय इलाज के लिए भेजा गया है। जिस आदमी ने उसे बंधक बनाया था उसे भी इलाज के लिए भेजा गया है।” पीड़िता कथित तौर पर मॉडलिंग की दुनिया से जुड़ी बताई जाती है। पुलिस उसे छुड़ाने की लगातार कोशिश कर रही थी। आरोपी ने पुलिस को बीच में आने पर धमकी दी थी। पुलिस के मुताबिक आरोपी ने दावा किया था कि वह लड़की से प्यार करता है और उससे शादी करना चाहता है। पुलिस ने यह भी बताया था कि आरोपी ने एक स्टांप पेपर और मोबाइल चार्जर मांगा था लेकिन जब पुलिस ने दखल देने की कोशिश की तो वह धमकी देने लगा था। पुलिस ने लड़की को देखे जाने की बात कही थी और कहा था कि वह खून से लथपथ थी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मामला एकतरफा प्यार का है। आरोपी ने पीड़िता को पाचवीं मंजिल पर उसके फ्लैट में ही बंधक बनाया था। उसके पास देसी कट्टा आदि हथियार होने की आशंका जताई गई थी। पुलिस ने रेस्क्यू ऑपरेशन में भारी क्रेन का भी सहारा लिया था। आरोपी के द्वारा धमकी दिये जाने पर पुलिस ने एक बाल्टी के जरिये उसे जरूरी सामान मुहैया कराया था। आरोपी ने खुद कास्टिंग असिस्टेंट डायरेक्टर बताया है।

आरोपी ने वीडियो कॉल के जरिये मीडिया से बात कर बताया था वह गुरुवार (12 जुलाई) की रात साढ़े ग्यारह बजे से फ्लैट में है। परिवार का कहना था कि वह शाम 7 बजे कमरे में दाखिल हुआ था। आरोपी ने वीडियो कॉल में कहा था कि पुलिसवालों ने जबरन कमरे में घुसकर उसे और उसकी प्रेमिका के साथ मारपीट की थी जिससे वह चोटिल हो गया और युवती की गर्दन में घाव हो गया। आरोपी का कहना था कि जब तक कि उसके पिता मौके पर नहीं आते वह किसी कीमत पर दरवाजा नहीं खोलेगा। वीडियो कॉल में युवती को भी देखा गया था। फिलहाल आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं। बता दें कि इसी वर्ष फरवरी में भी युवती ने आरोपी के खिलाफ मिसरोद थाने में छेड़छाड़ की शिकायत दर्ज कराई थी। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर अगले दिन छोड़ दिया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App