ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश में इस दिग्गज नेता को बीजेपी ने नहीं दिया था टिकट, राहुल गांधी ने कहा- हमारी पार्टी में आ जाओ

मुख्यमंत्री बनने के बाद ही कमलनाथ ने किसानों का कर्ज माफ करने को लेकर बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने वादे के मुताबिक किसानों के कर्ज माफी के दस्तावेज पर हस्ताक्षकर करते हुए कर्ज माफी को मंजूरी दे दी है।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी। (एक्सप्रेस फोटो)

मध्य प्रदेश में लगभग 15 सालों बाद कांग्रेस पार्टी की वापसी हुई है। सोमवार को कांग्रेस नेता कमलनाथ ने राज्य के 18वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। वहीं इस दौरान मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने बीजेपी नेता और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात करवाई। इस मुलाकात के दौरान राहुल गांधी ने बाबूलाल गौर को एक ऑफर दिया। राहुल ने बाबूलाल गौर से कहा कि ‘आप कांग्रेस पार्टी में आ जाइए..’

बाबूलाल गौर ने की थी कांग्रेस के जीत की भविष्यवाणी –

इसके अलावा ज्योतिरादित्य सिंधिया और बाबूलाल गौर के बीच भी मुलाकात हुई। मुलाकात के दौरान गौर ने सिंधिया से कहा, ‘आप तो अर्जुन हो गए जिसपर सिंधिया ने कहा, मैं आपके ही रास्ते पर चल रहा हूं।’ बता दें, मध्य प्रदेश चुनाव के बाद बीजेपी नेता बाबूलाल गौर ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा था कि राज्य में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी। उनका ये बयान काफी सुर्खियों में भी रहा था। बता दें, कमलनाथ के शपथ ग्रहण समारोह में विपक्षी पार्टियों के कई नेता शामिल हुए थे।

CM बनते ही कमलनाथ ने किया कर्जमाफी वाला वादा पूरा –

मुख्यमंत्री बनने के बाद ही कमलनाथ ने किसानों का कर्ज माफ करने को लेकर बड़ा फैसला लिया है। उन्होंने वादे के मुताबिक किसानों के कर्ज माफी के दस्तावेज पर हस्ताक्षकर करते हुए कर्ज माफी को मंजूरी दे दी है। हालांकि कर्ज माफी का प्रारुप क्या होगा इस पर अभी भी कुछ साफ नहीं हो सका है। कांग्रेस पार्टी ने चुनावों से पहले कहा था कि अगर राज्य में उनकी सरकार बनती है तो वो 10 दिन के भीतर किसानों का कर्ज माफ कर देंगे।

आंकड़े के मुताबिक मध्यप्रदेश के किसानों पर सहकारी बैंक, राष्ट्रीयकृत बैंक, ग्रामीण विकास बैंक और निजी बैंकों का कुल मिलाकर 70 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का कर्ज है। जिसमें करीब 56 हजार करोड़ रुपए का कर्ज 41 लाख किसानों द्वारा लिया गया है। खबरों के मुताबिक कर्ज माफी जून 2009 के बाद के कर्जदार किसानों की होगी जिससे करीब 33 लाख किसानों को फायदा होगा। कर्जमाफी को लेकर राहुल गांधी ने भी ट्वीट करते हुए नई नवेली सरकार की पीठ थपथपाई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App