ताज़ा खबर
 

MP Election Result 2018: मामा और बहनों के भाई के नाम से मशहूर हैं शिवराज, पर महिला बाहुल्य सीटें ले गई कांग्रेस

मध्यप्रदेश में बीते चुनावों के मुकाबले इस बार वोटिंग ज्यादा हुई है। प्रदेश में इस बार महिलाओं ने जमकर वोटिंग की। जिन सीटों पर महिलाओं का वोटिंग प्रतिशत सबसे अधिक रहा वहां का परिणाम कांग्रेस के पक्ष में रहा।

Author Published on: December 13, 2018 6:05 PM
भाजपा- कांग्रेस का प्रतीकात्मक फोटो, फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

मध्यप्रदेश में 15 सालों से सत्ता पर काबिज बीजेपी को कांग्रेस ने इस बार कांटे की टक्कर में शिकस्त दी। बीते चुनावों के मुकाबले इस बार वोटिंग ज्यादा हुई है। प्रदेश में इस बार महिलाओं ने जमकर वोटिंग की। जिन सीटों पर महिलाओं का वोटिंग प्रतिशत सबसे अधिक रहा वहां का परिणाम कांग्रेस के पक्ष में रहा। अधिक महिला वोटिंग वाली 10 सीटों में कांग्रेस ने 7 पर जीत हासिल की है। जबकि बीजेपी 3 सीटें ही जीत सकी। प्रदेश के सीहोर, छिंदवाड़ा, नीमच, आगर-मालवा और राजगढ़ क्षेत्रों में महिलाओं का मतदान प्रतिशत 82% तक रहा।

मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान को मामा के नाम से भी जाना जाता है। लेकिन प्रदेश में इस बार जहां महिलाओं की वोटिंग ज्यादा हुई है वहां पर बीजेपी को नुकसान हुआ है। आंकड़ों से जाहिर होता है इस बार महिलाओं ने भी प्रदेश में बदलाव के लिए वोट किया है। महिलाओं की सबसे ज्यादा वोटिंग वाली सीटों में छिंदवाड़ा जिले की चार सीटें शामिल है। छिंदवाड़ा कमलनाथ का गढ़ माना जाता है। गौरतलब है कि शिवराज ने इन चुनावों में छात्राओं को स्कूटी का वादा करके लुभाने का प्रयास किया था लेकिन नतीजों के अनुसार उनकी इस बात का भी कोई खास असर नहीं पड़ा है। सर्वाधिक महिला वोटिंग वाली सीटों पर कांग्रेस ने बाजी मारी है। ऐसी 10 सीटों पर कांग्रेस ने 7 पर जीत दर्ज की है जबकि बीजेपी के हाथ महज 3 सीटें आयीं है।

80 फीसदी से ज्यादा महिला वोटिंग वाली सीटें- सैलाना, सौसर, अमरवाड़ा, चौरई, थांदला, इछावर, मल्हारगढ़, पांढुर्ना, पिछोर, मनासा हैं।

इस बार के विधानसभा चुनाव में सूबे में कई सीटों पर महिला प्रत्याशियों ने जीत दर्ज की है। भाजपा ने 25 महिलाओं को टिकट दिया था, इनमें से 11 ने जीत दर्ज की है। कांग्रेेस ने 28 को टिकट दिया, इनमें 9 ने जीत दर्ज की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 CM का ऐलान से पहले राजस्थान कांग्रेस प्रवक्ता का इस्तीफा, सचिन पायलट के समर्थन में इंदर मोहन सिंह ने छोड़ी कुर्सी
2 15 दिन पहले सचिन पायलट ने कहा था, कांग्रेस में दर्जनभर लोग बन सकते हैं सीएम, अब मैदान में डटे
3 जीत पर भी सवालों की गुगली नहीं झेल सके नवजोत स‍िद्धू, टीवी शो छोड़ चले गए