ताज़ा खबर
 

बाढ़ पीड़ितों का हाल जानने गए सीएम शिवराज सिंह चौहान ने की “जवानों की सवारी”, लोगों ने लिया आड़े हाथ

मध्यप्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। इस तस्वीर में सीएम साहब जवानों की गोद में बैठ कर सूबे के बाढ़ पीड़ित इलाकों का जायजा लेते नजर आ रहे हैं।

Author नई दिल्ली | August 22, 2016 12:57 AM
बाढ़ प्रभावित क्षेत्र के दौरे पर सीएम शिवराज सिंह को गोद में उठाए हुए सुरक्षाकर्मी (ANI PHOTO)

मध्यप्रदेश राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। इस तस्वीर में सीएम साहब जवानों की गोद में बैठ कर सूबे के बाढ़ पीड़ित इलाकों का जायजा लेते नजर आ रहे हैं। लोग इस तस्वीर को खूब शेयर कर रहे हैं और शिवराज सिंह का मजाक उड़ाने से भी नहीं चूक रहे हैं। गौरतलब है कि बाढ़ की चपेट में आए मध्य प्रदेश का इन दिनों बुरा हाल है। राज्य में हालात का जायजा लेने पहुंचे शिवराज ने अमानगंज, गढोखर, कमताना, बिल्हा, हिनौती, सिंघोरा सहित कई गांव में बाढ़ पीडितों से भेंट कर उन्हें सांत्वना दी। लेकिन वह पन्ना जिले में पहुंचे तो कमताना गांव के कड़वानी में पहुंचे तो बहुत पानी भरा होने के चलते उन्होंने अपने सुरक्षा दल में शामिल जवानों का सहारा लिया। शिवराज ने सफेद जूते पहन रखे थे उन्हें पानी में उतरने से बचाने के लिए जवान उन्हें कन्धों पर उठा कर ले जा रहे हैं। जवानों का सहारा लेकर पानी से भरी जगहों को पार करते हुए उन्होंने बाढ़पीड़ितों के पास पहुंच कर उन्हें हर संभव मदद दिलाने के साथ-साथ सांत्वना दी।

शिवराज सिंह के बाढ़ दौरे पर तंज कसती एक फेसबुक पोस्ट। शिवराज सिंह के बाढ़ दौरे पर तंज कसती एक फेसबुक पोस्ट।

मालूम हो कि मध्य प्रदेश में भारी बारिश और बाढ़ से अब तक 17 लोगों की मौत हो गई है। शिवराज सिंह ने इस मामले में एक उच्च स्तरीय बैठक की है और एनडीआरएफ की टीम को प्रभावित इलाके में भेजा है। उधर सतना में अभी करीब 4700 लोगों को और रीवा में 5000 लोगों को राहत शिविरों में रखा गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार और प्रशासन पूरी तत्परता से बाढ़ पीडितों के लिए राहत और बचाव कार्य कर रहा है। शिवराज ने बाढ़ के कारण मारे गए लोगों के परिजनों को 4-4 लाख की सहायता राशि दिए जाने का एलान किया है। बाढ़ से क्षतिग्रस्त मकानों के लिए अधिकतम 95 हजार रूपये तथा जिन घरों में जल भराव हुआ उन्हें 6 हजार रूपये की सहायता दी जाएगी। इसके अलावा क्षतिग्रस्त झोपडी के लिए भी 6 हजार रूपये दिए जाएंगे। गाय, भैंस जैसे बडे पशुओं के लिए 30 हजार रूपये तथा बछडा-बछडी के लिए 10 हजार रूपये अन्य पशुओं के लिए 3 हजार रूपये तथा मुर्गा-मुर्गी के लिए 60 रूपये की क्षतिपूर्ति दी जाएगी। बाढ प्रभावित प्रत्येक परिवार को तत्काल 50 किलो अनाज नि-शुल्क उपलब्ध कराया जाएगा।

सोशल मीडिया पर शेयर हो रही इस तस्वीर से जहां विपक्ष को शिवराज सरकार पर उंगली उठाने का मौका मिल सकता है। वहीं जनता में भी इस तस्वीर के चलते सरकार की छवि धूमिल हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X