ताज़ा खबर
 

MP: कमलनाथ ने रीवा कमिश्नर को हटाया, चर्चा- 4 साल पहले कांग्रेस समर्थकों से भिड़ने का खामियाजा भुगता

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद कमलनाथ का यह पहला प्रशासनिक फेरबदल है। प्रदेश में एक आईएएस और एक आईपीएस अधिकारी का तबादला किया गया है।

कांग्रेस नेता और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (Express Photo)

मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री बनने के एक दिन बाद ही कमलनाथ ने प्रशासनिक फेरबदल किया है। कमलनाथ ने रीवा कमिश्नर महेशचंद्र चौधरी जोकि 2001 बैच के आईएएस अधिकारी हैं को हटाकर जेके जैन को प्रभार सौंप दिया। जैन 2001 बैच के ही आईएएस अधिकारी है और वो इसके पहले शहडोल संभाग के कमिश्नर थे। इसके अलावा उन्होंने अपने गृहक्षेत्र छिंदवाड़ा के एसपी अतुल सिंह की जगह भोपाल में एसपी रेल मनोज राय को नियुक्त किया है।

दरअसल, मध्यप्रदेश में पिछले 15 सालों से भाजपा की सरकार थी। इस बार के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने जीत दर्ज कर कमलनाथ को अपना मुख्यमंत्री बनाया है। शपथ लेने के बाद कमलनाथ का यह पहला प्रशासनिक फेरबदल है। जिसमें एक आईएएस और एक आईपीएस अधिकारी का तबादला किया गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रीवा कमिश्नर महेशचंद्र चौधरी को हटाने के पीछे विधानसभा चुनाव के दौरान उनका सुर्खियों में आना है। चुनाव के दौरान कांग्रेसियों ने पक्षपात को लेकर उनकी शिकायत की थी। फिलहाल चौधरी को मंत्रालय में ओएसडी पदस्थ किया गया है। मध्यप्रदेश सरकार ने छिंदवाड़ा के एसपी अतुल सिंह को भी हटाया है। चुनाव के दौरान उनकी भी शिकायतें रहीं। बताया जा रहा है कि चुनाव के दौरान उनकी कार्यप्रणाली से कमलनाथ नाराज थे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कमिश्नर महेशचंद्र चौधरी 2014 के आम चुनाव के समय छिंदवाड़ा में तैनात थे और इस दौरान वो कमलनाथ के शिकारपुर स्थित निवास तक पहुंच गए थे। वहां कमलनाथ के समर्थकों के साथ उनका इस बात को लेकर विवाद भी हुआ था।

मध्यप्रदेश में 1982 बैच के सीनियर आईएएस अधिकारी एसआर मोहंती का नाम मुख्य सचिव की दौड़ में आगे बताया जा रहा है। इस दौड़ में इनमें राधेश्याम जुलानिया, सलीना सिंह, केके सिंह, प्रभांशु कमल समेत अन्य के नाम भी शामिल है। प्रदेश में मौजूदा मुख्य सचिव बीपी सिंह के 31 दिसंबर को रिटायर हो रहे है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App