ताज़ा खबर
 

MP ByPolls: कोरोना वैक्सीन मुद्दा एमपी में भी गरमाया, सीएम शिवराज- सबको मुफ्त में देंगे

मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी ऐसा ही वादा कर दिया है। शिवराज ने कहा है कि जैसे ही वैक्सीन तैयार होगी, राज्य के हर नागरिक को वह मुफ्त में उपलब्ध करायी जाएगी।

shvraj singh chauhan, madhya pradesh, bypoll, corona vaccineसीएम शिवराज सिंह चौहान ने राज्य के लोगों को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन देने का ऐलान किया है। (फाइल फोटो)

भाजपा ने बिहार चुनाव के लिए जारी किए अपने घोषणा पत्र में राज्य की जनता को कोरोना वैक्सीन मुफ्त उपलब्ध कराने का वादा किया है। जिस पर विपक्षी पार्टियों ने भाजपा को घेर लिया है। अब मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने भी ऐसा ही वादा कर दिया है। शिवराज ने कहा है कि जैसे ही वैक्सीन तैयार होगी, राज्य के हर नागरिक को वह मुफ्त में उपलब्ध करायी जाएगी।

शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा कि “मेरे प्रदेशवासियों, कोरोना वायरस से जनता को बचाने के लिए हमने अनेक प्रभावी कदम उठाए हैं। आज यह पूरी तरह से नियंत्रित है। भारत में कोरोना की वैक्सीन तैयार करने का कार्य तेजी से चल रहा है, जैसे ही वैक्सीन तैयार होगी, मध्य प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को वह मुफ्त में उपबल्ध करायी जाएगी।” मध्य प्रदेश में भी आगामी 3 नवंबक को 28 विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव होने हैं। ऐसे में शिवराज सिंह चौहान के ताजा ऐलान को भी उपचुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

बता दें कि भाजपा के मुफ्त वैक्सीन के वादे पर विपक्षी पार्टियों ने उसे घेर लिया है। राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा है कि कोरोना का टीका देश का है, बीजेपी का नहीं। वहीं कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि भाजपा बिहार चुनाव में कोरोना वैक्सीन देने की बात कर उन्हें बरगला रही है। सुरजेवाला ने कहा कि कोरोना माहमारी की वैक्सीन मजाक उड़ाने और झूठ बोलने का विषय नहीं हो सकती।

राहुल गांधी ने तंज कसते हुए कहा है कि ‘भारत सरकार ने अपनी कोरोना रणनीति के बारे में बता दिया है। आपको कोरोना की वैक्सीन कब मिलेगी इसके लिए यह देखिए कि राज्यवार चुनाव का शेड्यूल क्या है।’ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा के वादे पर सवाल उठाते हुए कहा कि ऐसी घोषणा अन्य राज्यों के लिए क्यों नहीं की गई।

बता दें कि मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय की ग्वालियर पीठ ने राज्य में हो रहे उपचुनाव के लिए राजनीतिक रैलियों पर प्रतिबंध लगा दिया है। कोर्ट ने कोरोना माहमारी के दौर में सोशल डिस्टेंसिंग को सुनिश्चित करने के लिए रैलियों पर रोक लगायी है। हालांकि सीएम शिवराज सिंह ने इस फैसले से नाखुशी जाहिर की है और इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाने की बात कही है। चौहान का कहना है कि बिहार में रैलियां हो रही हैं। एक देश में इस तरह से विरोधाभासी कानून नहीं हो सकता।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 अनंतनाग में पुलिस अधिकारी की हत्या, 8 लोगों के परिवार में अकेले कमाने वाले थे अशरफ भट्ट
2 एमपी उपचुनाव: अब इमरती देवी का विवादित बयान, बोलीं – कमलनाथ की मां-बहन होंगी ‘बंगाल की आइटम’
3 कोरोना काल में भाजपा शासित NDMC के हॉस्पिटलों में डॉक्टरों को सैलरी नहीं, मजबूरी में उठाया ये कदम
यह पढ़ा क्या?
X