ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश: पानी से लबालब भरी सड़क पर कुर्सी डालकर बैठे बीजेपी मेयर, कहा-हालात पर नजर रख रहा हूं

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भारी बारिश के कारण कई इलाकों में जलभराव की स्थिति उत्पन्न हो गई। शहर के मेयर आलोक शर्मा पानी से लबालब भरी सड़क पर कुर्सी डालकर बैठ गए। उन्होंने वहीं से कलेक्टर को फोन कर हालात से रूबरू होने को कहा।

पानी से लबालब भरी सड़क पर कुर्सी डालकर बैठे भोपाल के मेयर आलोक शर्मा।

पश्चिम भारत के साथ मध्य भारत में दक्षिण-पश्चिम मानसून के सक्रिय होने से झमाझम बारिश हो रही है। इसके कारण देश के कई हिस्सों में गंभीर समस्याएं भी पैदा हो गई हैं। खासकर शहरों में जलभराव की समस्या ने विकराल रूप धारण कर लिया है। आमलोगों की समस्याओं को कम करने के लिए उपाय भी किए जा रहे हैं। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में भी जलभराव की समस्या सामने आई है। लेकिन, इसको लेकर भोपाल के मेयर ने विचित्र कदम उठाया। मेयर आलोक शर्मा भोपाल टॉकीज के पास पानी से लबालब भरी सड़क पर कुर्सी डालकर बैठ गए। उन्होंने वहीं से संबंधित विभाग के अधिकारियों को फोन कर कड़ी फटकार भी लगाई। मेयर आलोक शर्मा ने कहा, ‘मैं शहर के विभिन्न हिस्सों की मौजूदा स्थितियों का जायजा ले रहा हूं। सभी एजेंसियों को आपस में सामंजस्य बिठाते हुए काम करना चाहिए। मैंने कलेक्टर से भी बात की और उन्हें मौजूदा हालात से रूबरू होने को कहा, ताकि इस तरह की परिस्थितियों की पुनरावृत्ति न हो।’ बता दें कि मूसलाधार बारिश के कारण भोपाल के कई इलाकों में जलभराव की स्थिति उत्पन्न हो गई। नालों की सफाई ठीक से न होने के कारण स्थिति और भी गंभीर हो गई है। इससे आमलोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

दरअसल, भोपाल नगर निगम ने बारिश के सीजन से पहले शहर में कहीं भी जलभराव न होने का दावा किया था। लेकिन, बारिश होते ही निगम के दावों की पोल खुल गई। एक हफ्ते पहले हुई बारिश में भी शहर के कई इलाकों में जलभराव की स्थिति पैदा हो गई थी। मौसम ठीक होने पर निगम ने सफाई अभियान का दौर चलाया था और दावा किया था कि अब बारिश हुई तो जलभराव की स्थिति नहीं बनेगी, लेकिन 11 जुलाई की रात में हुई बारिश के बाद हालात पहले की ही तरह बन गए। नदी-नाले उफान पर हैं और उनका पानी सड़कों से होते हुए लोगों के घरों तक पहुंच रहा है। इससे लोगों में भारी गुस्सा है। इसे देखते हुए मेयर आलोक शर्मा खुद ही जलभराव वाली सड़क के बीचों-बीच कुर्सी लगाकर बैठ गए। बता दें कि मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल ही नहीं, बल्कि महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई और गुजरात के भी कई इलाकों में भारी बारिश के कारण हालात बिगड़ गए हैं। मुंबई की हालत तो सबसे ज्यादा खराब है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App