ताज़ा खबर
 

मध्‍य प्रदेश चुनाव: मंदसौर से ताल ठोकेंगे हार्दिक पटेल, इस बार आरक्षण नहीं किसानों और युवाओं की करेंगे बात

मध्‍य प्रदेश में साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं। ऐसे में गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने भाजपा शासित सरकार के खिलाफ अभियान शुरू करने की घोषणा कर दी है। हार्दिक मंदसौर जिले से अपने अभियान की शुरुआत करेंगे। इस बार उनका मुद्दा आरक्षण नहीं, बल्कि किसानों और युवाओं का हित होगा। उन्‍होंने स्‍पष्‍ट कहा कि उनके अभियान से यदि कांग्रेस को फायदा होता है तो हो।

गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल। (फाइल फोटो)

मध्‍य प्रदेश में साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं, लेकिन उसकी सरगर्मियां अभी से तेज हो गई हैं। पाटीदार नेता हार्दिक पटेल भाजपा के लिए मध्‍य प्रदेश में भी समस्‍याएं खड़ी कर सकते हैं। उन्‍होंने भाजपा शासित राज्‍य में रैलियां करने का ऐलान किया है। वह इसकी शुरुआत मंदसौर से करेंगे। हार्दिक मध्‍य प्रदेश में आरक्षण की नहीं, बल्कि किसानों और युवाओं के हित की बात करेंगे। पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के संयोजक मध्‍य प्रदेश के जरिये गुजरात के बाहर भी अपना पैर फैलाना चाहते हैं। ‘मिंट’ के अनुसार, हार्दिक पटेल किसान क्रांति सेना के बैनर तले आने वाले कुछ महीनों में राज्‍यभर में 14 रैलियां करेंगे। पाटीदार नेता ने कहा, ‘यदि गुजरात में पटेलों के लिए आरक्षण हमारी मुख्‍य मांग थी तो मध्‍य प्रदेश में किसानों और युवाओं की आकांक्षाएं हमारे लिए मुख्‍य मुद्दा होगा। मैंने रैलियों और सभाओं के जरिये 150 विधानसभा सीटों को कवर करने की योजना बनाई है।’ हार्दिक ने बताया कि रैलियों के जरिये वह किसानों की समस्‍याओं को उठाएंगे और उसका समाधान करने की कोशिश करेंगे। हार्दिक की घोषणा से मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री शिवराज चौहान की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

HOT DEALS
  • Sony Xperia XA Dual 16 GB (White)
    ₹ 15940 MRP ₹ 18990 -16%
    ₹1594 Cashback
  • Honor 7X Blue 64GB memory
    ₹ 16010 MRP ₹ 16999 -6%
    ₹0 Cashback

अगस्‍त में करेंगे पहली रैली: हार्दिक पटेल ने बताया कि वह अगस्‍त में मंदसौर जिले के गरोडा में पहली रैली करेंगे। उनके मुताबिक, इस जनसभा में एक लाख से ज्‍यादा किसान हिस्‍सा लेंगे। बता दें कि मंदसौर में पिछले साल किसानों ने विभिन्‍न मांगों को लेकर जबरदस्‍त विरोध-प्रदर्शन किया था। किसानों के प्रदर्शन पर पुलिस ने गोलियां चला दी थीं, जिसमें 6 किसानों की मौत हो गई थी। किसानों की समस्‍या को देखते हुए हार्दिक पटेल ने पहली रैली के लिए मंदसौर को चुना। पाटीदार नेता अगस्‍त में ही अमरकंटक से बुंदेलखंड तक अभियान भी चलाएंगे। इसके दायरे में विधानसभा की 58 सीटें आती हैं। अगले चरण में वह कोकाशी से मालवा-निमाड़ क्षेत्र में कैंपेन करेंगे। वह बेरोजगारी और ग्रामीण दिक्‍कतों के मुद्दों पर इंदौर, भोपाल, धार, पन्‍ना और मंदसौर में पांच बड़ी-बड़ी रैलियां भी करेंगे। हार्दिक मंदसौर शहर में भी गुजरात के राजकोट (वर्ष 2017) की तर्ज पर बड़ी जनसभा को संबोधित करेंगे। इसमें 5 लाख लोगों के शामिल होने की संभावना जताई गई है। मालूम हो कि हार्दिक ने गुजरात विधानसभा चुनाव के दौरान राजकोट में बड़ी रैली की थी, जिसमें बड़ी तादाद में लोग शामिल हुए थे। राजकोट से 30 किलोमीटर दूर मोरबी में पीएम नरेंद्र मोदी एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

‘भाजपा से लड़ूंगा, इसमें कांग्रेस को फायदा हो तो हो’: हार्दिक पटेल ने स्‍पष्‍ट शब्‍दों में कहा कि वह मध्‍य प्रदेश में सत्‍तारूढ़ भाजपा के खिलाफ संघर्ष करेंगे। इसके चलते गुजरात की तर्ज पर यद‍ि कांग्रेस को फायदा होता है तो हो। बता दें कि इंदौर-भोपाल पटेल बहुल इलाका है, ऐसे में हार्दिक के अभियान से भाजपा को नुकसान उठाना पड़ सकता है। भाजपा ने पिछले विधानसभा चुनावों में 230 में से 165 सीटें हासिल की थीं। वहीं, कांग्रेस को महज 58 सीटें ही मिली थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App