ताज़ा खबर
 

20 रुपए चुराने के आरोप में 41 साल बाद मिला इंसाफ, निर्दोष साबित हुआ इस्माइल खान

ग्वालियर में आयोजित एक लोक अदालत से आरोपी व्यक्ति को राहत मिली। इस केस को लेकर लोगों की बीच खासी चर्चा है, जिसमें आरोपी व्यक्ति ने महज 20 रुपए चोरी के आरोप में 4 दशक से भी अधिक लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी।

Author ग्वालियर | July 14, 2019 4:30 PM
प्रतीकात्मक फोटो (फोटो सोर्स: इंडियन एक्सप्रेस)

मध्य प्रदेश क ग्वालियर में एक अधिकारी द्वारा कथित तौर 20 रुपए की चोरी करने के मामले में 41 साल बाद उसे निर्दोष करार दिया गया। बताया जा रहा है कि ग्वालियर में आयोजित एक लोक अदालत से आरोपी व्यक्ति को राहत मिली। इस केस को लेकर लोगों की बीच खासी चर्चा है, जिसमें आरोपी व्यक्ति ने महज 20 रुपए चोरी के आरोप में 4 दशक से भी अधिक लंबी कानूनी लड़ाई लड़ी।

क्या है मामला: ग्वालियार में लोक अदालत के एक अधिकारी ने कहा कि न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी (जेएमएफसी) अनिल कुमार नामदेव ने भविष्य में किसी भी तरह की गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्त नहीं होने का वचन लेने के बाद आरोपी इस्माइल खान को आरोपमुक्त कर दिया। इस मामले के शिकायतकर्ता 61 वर्षीय बाबूलाल ने कहा कि इस्माइल खान (68) ने 1978 में बस टिकट खरीदने के दौरान मेरी जेब से 20 रुपये चुरा लिए थे। जिसके बाद मैंने 1978 में खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया था। लेकिन तब उसे कुछ महीनों बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया। खान अदालत में सुनवाई के लिए लगातार आता रहा लेकिन 2004 से उसने आना बंद कर दिया। जिसके बाद एक वारंट जारी किया गया और अप्रैल 2019 को उसे गिरफ्तार कर लिया गया। बाबूलाल ने कहा कि खान पिछले तीन महीनों से जेल में था।

National Hindi News, 14 July 2019 LIVE Updates: पढ़ें आज की बड़ी खबरें

Bihar News Today, 14 July 2019: बिहार की बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

शिकायतकर्ता बाबूलाल ने आगे बताया कि इस्माइल खान का कोई परिवार नहीं है और उसकी आर्थिक स्थिति भी बहुत खराब है। यहां तक की उसके पास अपनी जमानत के लिए आवेदन दायर करने के लिए पैसा भी नहीं था। न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी (जेएमएफसी) ने लोक अदालत में सुनवाई के लिए हम दोनों को बुलाया था, जहां उसे आरोपमुक्त कर दिया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App