ताज़ा खबर
 

मध्य प्रदेश: 10वीं बोर्ड परीक्षा में PoK को आजाद कश्मीर बता पूछे गए सवाल तो CM हो गए ट्रोल, कांग्रेस को लोग सुना रहे खरी खोटी

MP बोर्ड के 10वीं के सोशल साइंस सब्जेक्ट के पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को आजाद कश्मीर कहा गया, इस पर लोगों ने सोशल मीडिया पर आपत्ति जताई

मध्य प्रदेश के 10वीं बोर्ड के सोशल साइंस में पूछा गया पीओके से जुड़ा सवाल। (फोटो- एएनआई)

मध्य प्रदेश कमलनाथ सरकार एक और विवाद में घिरती नजर आ रही है। 10वीं के बोर्ड एग्जाम में सोशल साइंस सब्जेक्ट में पूछा गया एक सवाल सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) को आजाद कश्मीर कहा गया। इसके बाद लोगों ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के साथ मुख्यमंत्री कमलनाथ तक पर निशाना साधना शुरू कर दिया है।

पेपर में पूछे गए इस सवाल को लेकर राष्ट्रीय बाल सुरक्षा आयोग (एनसीपीसी) ने मध्य प्रदेश सेकेंड्री एजुकेशन बोर्ड को पत्र लिखा है। एनसीपीसी ने कहा है कि प्रथम दृष्टया में यह मामला आपराधिक उल्लंघन का है। मामले पर बोर्ड से एक्शन टेकन (कार्रवाई) रिपोर्ट मांगी गई है। एक हैंडल से लिखा गया, “कांग्रेस से और क्या उम्मीद की जा सकती है।”

इस पर सोशल मीडिया पर भी लोगों ने गुस्से का इजहार किया। सूर्यवंशी नाम के एक यूजर ने लिखा, “कमलनाथ है तो संभव है।” वहीं देवा राठौड़ ने लिखा, “कांग्रेस कुछ भी कर सकती है।”

नरेंद्र मोदी फैन नाम के एक हैंडल ने पोस्ट में लिखा, “हे भगवान मध्य प्रदेश में 15 साल लगातार भाजपा की सरकार रही, कभी प्रश्न पत्र में ऐसा सवाल नही आया। कांग्रेस की सरकार आते ही आजाद कश्मीर के सवाल हैं। कांग्रेस का हाथ पाकिस्तान के साथ” राजीव पटेल ने इस पर लिखा- इस पर देशद्रोह का मुकदमा चलना चाहिए।

PoK पर पाकिस्तान का अवैध कब्जाः 1947 में पाकिस्तान की कबाइलियों की फौज ने जम्मू-कश्मीर पर हमला कर एक हिस्से पर अवैध तरीके से कब्जा कर लिया था। भारत से अलग हुए इस हिस्से को पाकिस्तान ने दो टुकड़ों में बांट दिया। पाक सरकार इसके एक हिस्से को गिलगित-बल्टिस्तान और दूसरे हिस्से को आजाद कश्मीर कहती है। यह इलाका करीब 13,300 वर्ग किमी में फैला है और यह जम्मू-कश्मीर राज्य के मुकाबले लगभग तीन गुना बड़ा है। इसकी जनसंख्या 45 लाख है।

भाजपा कह चुकी है पीओके भारत में मिलाने की बात: पिछले साल जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद केंद्र की भाजपा सरकार ने दावा किया था कि जल्द ही पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर को भी भारत में मिलाया जाएगा। गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि पीओके भारत का हिस्सा है। इसे कोई नहीं ले सकता। हम इसके लिए जान भी दे देंगे। वहीं भाजपा महासचिव राम माधव ने कहा था कि अखण्ड भारत का सपना पीओके के भारत में मिलने के बाद ही पूरा होगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 उत्तर प्रदेश: आजम खान के गढ़ में BJP नेता जयाप्रदा के खिलाफ गैर जमानती वॉरंट