ताज़ा खबर
 

लुधियानाः 20 वर्षीय छात्रा से गैंगरेप का 1 आरोपी अरेस्ट, 4 अन्य की हुई पहचान

डीएसपी बोले, "गिरफ्तार किया गया शख्स शादीशुदा और वह लुधियाना में परिजन से मिलने पहुंचा था। सभी आरोपी गुर्जर समुदाय से हैं।"

पीड़िता दोस्त के साथ बाजार से लौट रही थी, उसी दौरान आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया था। (फोटोः Freepik)

पंजाब के लुधियाना में 20 साल की छात्रा से गैंगरेप के मामले में मंगलवार (12 फरवरी, 2019) को एक शख्स को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने इसी के साथ चार अन्य लोगों की पहचान कर ली है। डीआईजी रणबीर सिंह खत्रा ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि मुख्यारोपी नवांशहर (एसबीएस नगर) जिले के रेहपा गांव का रहने वाला है। वह गुर्जर समुदाय से हैं और गाय चराने का काम करता है।

पीड़िता नौ फरवरी की मध्य रात्रि को चांगना पुल की तरफ से एक दोस्त के साथ सराभा नगर बाजार से लौट रही थी। उसी दौरान दरिंदों ने वारदात को अंजाम दिया था। डीआईजी ने आगे चार अन्य आरोपियों के नाम बताए और कहा कि उन्हें दबोचने के लिए दबिश दी जा रही है। पुलिस ने गैंगरेप में इन पांचों के अलावा एक और शख्स के भी शामिल होने की पुष्टि की है। हालांकि, अभी तक उसकी पहचान नहीं हो सकी है।

डीआईजी के मुताबिक, फिलहाल इस घटना में छह आरोपी शामिल हैं। वे सभी 25 से 30 साल के बीच के हैं। बकौल डीआईजी, “पांच से छह घंटे पूछताछ के बाद आरोपी गिरफ्तार हुआ। उसने जुर्म कबूल लिया है। उसने और उसके साथियों ने घटना के दौरान दोनों पीड़ितों की गाड़ी को रोका था। पहले लूटपाट की, फिर लड़की के साथ गैंगरेप किया। अभी तक इस मामले में छह लोगों के शामिल होने की पुष्टि की जा चुकी है। एक की पहचान किया जाना बाकी है। जगह-जगह छापे जा रहे हैं।”

उधर, डीएसपी बोले, “गिरफ्तार किया गया शख्स शादीशुदा और वह लुधियाना में परिजन से मिलने पहुंचा था। सभी आरोपी गुर्जर समुदाय से हैं।” इसी बीच, लोगों ने घटना के विरोध कैंडल मार्च और विरोध प्रदर्शन किया था।

क्या है पूरा मामला?: शनिवार आधी रात को लुधियाना निवासी छात्रा एक दोस्त (पुरुष) के साथ आई-20 गाड़ी से आ रही थी। वे दोनों सराभा बाजार से आ रहे थे। पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ 9-10 लोगों ने गैंगरेप किया, जबकि दोस्त ने घटना का विरोध किया तो दोस्त की बुरी तरह से पिटाई की गई। दावा है कि आरोपियों ने पीड़िता के दोस्तों से उन दोनों को छोड़ने के बादले एक लाख रुपए फिरौती के तौर पर मांगे थे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App