ताज़ा खबर
 

लखनऊ नगर निगम की अनूठी पहल, भिखारियों को योग्यता के मुताबिक देगा नौकरी, दिव्यांगों को ये सुविधा

लखनऊ नगर निगम कमिश्नर इंद्र मणि त्रिपाठी ने समाचार एजेंसी एनआई को बताया कि शैक्षिक योग्यता के आधार पर भिखारियों को रोजगार दिया जाएगा।

लखनऊ नगर निगम ने भिखारियों को उनकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर रोजगार देने का फैसला किया है। (फोटो- एएनआई)

भिखारियों की जीवन सुधारने और उन्हें मुख्यधारा में लाने के लिए लखनऊ नगर निगम ने नई पहल शुरू की है। लखनऊ नगर निगम ने भिखारियों को उनकी शैक्षिक योग्यता के आधार पर रोजगार देने का फैसला किया है। लखनऊ नगर निगम कमिश्नर इंद्र मणि त्रिपाठी ने समाचार एजेंसी एनआई को बताया कि शैक्षिक योग्यता के आधार पर भिखारियों को रोजगार दिया जाएगा और गली के बच्चों का पुनर्वास कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि दिव्यांग भिखारियों को शेल्टर होम में रखा जाएगा जबकि सक्षम भिखारियों को नागरिक कर्तव्य के काम पर लगाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि एक सर्वे किया जा रहा है, जिससे भिखारियों की पहचान की जा रही है और बेघर लोगों के बारे में जानकारी एकत्रित की जा रही है। यह काम दो से तीन दिन में पूरा कर लिया जाएगा। हाल ही में सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राजधानी लखनऊ में भिखारियों की पहचान कर उनके पुनर्वास की बात कही थी।नगर निगम कमिश्नर त्रिपाठी ने कहा कि भिखारियों का काम रोज की साफ सफाई और घर-घर जाकर कूड़ा एकत्र करने का काम दिया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App। जनसत्‍ता टेलीग्राम पर भी है, जुड़ने के ल‍िए क्‍ल‍िक करें।

Next Stories
1 कानून-व्यवस्थाः देशभर के पुलिस विभाग में 5.28 लाख पद खाली, 1.29 लाख पदों के साथ यूपी सबसे बेहाल
2 दिल्ली की तंग गलियों में रोबोट करेंगे नालों की सफाई, केजरीवाल सरकार कर रही है विचार
3 Delhi: केजरीवाल सरकार का एक और बड़ा कदम, अब पैरेंट्स घर बैठे Live देख सकेंगे बच्चे की कक्षा का हाल, ये है प्रोसेस
ये पढ़ा क्या?
X