ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: दिल्ली में मतदान से पहले गोमांस पर भड़का तनाव, मौके पर पहुंची पुलिस ने संभाली स्थिति

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): दिल्ली में मतदान से दो दिन पहले पूर्वी दिल्ली के त्रिलोक पुरी इलाके में दो गायों के मृत मिलने से तनाव फैल गया। बुधवार को स्थानीय लोगों ने पुलिस के इस मामले की जानकारी दी।

त्रिलोक पुरी के संजय झील में बुधवार को दो मरी हुई गायें मिलीं। (प्रतीकात्मक फोटोः पीटीआई)

Lok Sabha Election 2019: दिल्ली में मतदान से चार दिन पहले पूर्वी दिल्ली के त्रिलोक पुरी इलाकों में गोमांस की आशंका में दो गायों के मृत मिलने से तनाव फैल गया। ये मरी हुई गायें संजय झील में दिखाई दीं। स्थानीय लोगों ने पुलिस को इस मामले की जानकारी दी। लोगों को कहना था कि इन मरी हुई गायों के साथ दो लोग भी थे।

जब उन लोगों को रुकने को कहा गया तो वह भाग गए। घटना के बाद सुबह 6 बजे से लोग वहां जुटने शुरू हो गए। स्थिति को काबू में रखने के लिए पुलिस का दल वहां पहुंच गया और लोगों को वहां से तितर-बितर किया। पुलिस ने स्थानीय निकाय एजेंसियों के साथ संपर्क कर मृत गायों को पशुओं के अस्पताल भिजवाया।

अस्पताल में पोस्टमार्टम के जरिये गायों के मरने के कारण और समय का पता लगाया जाएगा। पुलिस ने इलाके में शांति बनाए रखने के लिए मुख्य स्थानों पर पिकेट लगाए हैं। मोहल्ले के बुजुर्ग लोगों से शांति बनाए रखने का आग्रह किया जा रहा है।

इस मामले में डीसीपी (ईस्ट) जसमीत सिंह ने कहा कि पुलिस ने जानवर क्रूरता निषेध अधिनियम के तहत केस दर्ज कर लिया है। इलाके में सादी वर्दी में पुलिस वालों को तैनात कर दिया गया है। पुलिस की तरफ से यह कदम घटना के बारे में अधिक जानकारी जुटाने के तहत उठाया गया है।

पुलिस संदिग्धों के बारे में और घटना के बारे में अतिरिक्त जानकारी जुटाने में लगी हुई है। वरिष्ठ अधिकारियों को इस मामले की विस्तृत रिपोर्ट भेज दी गई है। मामले में सुराग जुटाने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं।

कोटला गांव के किसान की गायः जांच में पता लगा है कि यह दोनों गायें कोटला गांव के एक किसान की हैं।  किसान ने जांचकर्ताओं को बताया कि उसकी गायें अक्सर शाम को खुले में चरने के लिए जाती थीं। उसने दोनों मरी हुई गायों की पहचान कर ली है। ये गायें दो दिन से लापता थीं। पुलिस को आशंका है कि लोकसभा चुनाव से पहले तनाव फैलाने की आशंका के मद्देनजर यह काम किया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

X