ताज़ा खबर
 

Lok Sabha Election 2019: राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए मंदिरों के चक्‍कर काट रहे हैं एमपी के यह मंत्री

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): लोकसभा चुनाव 2019 की तारीखों की घोषणा के बाद मध्यप्रदेश में भी चुनाव प्रचार जोर शोर से चल रहा है। प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनवाने के लिए मंदिरों में माथा टेक रहे हैं।

मंत्री पीसी शर्मा ने अजमेर शरीफ दरगाह जाकर भी राहुल के पीएम बनने की मन्नत मांगी है। फोटोः इंडियन एक्सप्रेस

Lok Sabha Election 2019 (लोकसभा चुनाव 2019): सॉफ्ट हिंदुत्व के आरोपों का सामना कर रही कांग्रेस ने मध्यप्रदेश में सभी 29 सीटों पर जीत हासिल करने के लिए नया अभियान शुरू किया है। यह अभियान है मतदाताओं के साथ ही भगवान को खुश करना। इसमें चौंकाने वाली बात यह है कि मध्यप्रदेश में धार्मिक ट्रस्ट के मंत्री पीसी शर्मा राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए मंदिरों और अन्य धार्मिक स्थलों के चक्कर लगा रहे हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार मंत्री शर्मा ने बताया कि  मैंने कुछ मंदिरों के दर्शन किए हैं। उन्होंने कहा कि मैं पशुपति नाथ मंदिर भी गया था। मंत्री ने कहा कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को पीएम बनाने के लिए मन्नत मांगी है। उन्होंने कहा कि मैं अजमेर दरगाह भी जा चुका हूं। कांग्रेस के मंत्री केंद्र में राहुल के नेतृत्व में सरकार बनाने के लिए कोई भी कसर नहीं छोड़ रहे हैं।

इससे पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की जीत के लिए ओरछा में राम राजा मंदिर, इंदौर के खजराना गणेश मंदिर, नलखेड़ा में बगुलामुखी मंदिर, अगर-मालवा और उज्जैन में महाकाल मंदिर भी प्रार्थना कर चुके हैं। अजमेर रवाना होने से पहले मंत्री शर्मा मुख्यमंत्री कमलनाथ की तरफ से दरगाह पर चादर चढ़ाने के लिए लेकर गए हैं। शर्मा ने कहा, मैंने आज दरगाह पर चादर चढ़ाई और चुनाव में पार्टी की जीत के लिए प्रार्थना की।

साल 2014 में मोदी लहर के दौरान कांग्रेस 29 में से महज तीन सीट ही जीत पाई थी। मध्य प्रदेश में 15 साल बाद सत्ता में लौटने के बाद पार्टी लोकसभा चुनाव में सभी 29 सीटों पर जीत सुनिश्चित करना चाहती है। वहीं, भाजपा की तरफ से पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी पूरी तरह से इलेक्शन मोड में गए हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App