ताज़ा खबर
 

लोकसभा चुनाव 2019ः केसीआर के बेटे का बड़ा बयान- 16 सीटें जीते तो दिल्ली पर कस देंगे शिकंजा

उनका मानना है कि लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा और कांग्रेस दोनों को बहुमत नहीं मिलेगा। ऐसे में अगर राज्य में उन्हें 16 सीटें मिल गई तो केसीआर चुनाव के बाद मजबूत स्थिति में आ जाएंगे और दिल्ली में अपनी बातें आसानी से मनवा लेंगे।

टीआरएस नेता केटी रामा राव (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने बेटे और तेलंगाना राष्ट्र समिति के कार्यकारी अध्यक्ष केटी रामा राव ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी राज्य की 17 में से 16 लोकसभा सीटें जीतने पर फोकस करेगी। उनका मानना है कि लोकसभा चुनाव 2019 में भाजपा और कांग्रेस दोनों को बहुमत नहीं मिलेगा। ऐसे में अगर राज्य में उन्हें 16 सीटें मिल गई तो केसीआर चुनाव के बाद मजबूत स्थिति में आ जाएंगे और दिल्ली में अपनी बातें आसानी से मनवा लेंगे।

‘राज्य को मिलेगी खासी मदद’: केटी रामा राव ने कहा, ‘हमारे मुख्यमंत्री पहले ही भाजपा-कांग्रेस के विकल्प के लिए मजबूती से काम कर रहे हैं। ऐसे में लोकसभा चुनाव के बाद केंद्र में टीआरएस का पलड़ा भारी हो सकता है। यदि हमने केसीआर को 16 सीटें सौंप दीं तो वे राज्य के लोगों के लिए केंद्र से खासी मदद ले सकते हैं।’ उल्लेखनीय है कि हाल ही में केसीआर की पार्टी को तेलंगाना विधानसभा चुनाव में जबर्दस्त बहुमत मिला था। इसके बाद केसीआर ने लोकसभा चुनाव पर अपनी नजरें जमा ली थीं।

बढ़ रहा है क्षेत्रीय पार्टियों का महत्वः मध्य प्रदेश और राजस्थान विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने छोटे दलों की मदद से सरकार बनाई थी। इसके बाद क्षेत्रीय पार्टियों का महत्व और बढ़ गया। ऐसे में केसीआर का भाजपा और कांग्रेस से मुक्त फेडरल फ्रंट पर फोकस और बढ़ गया। हाल ही में उन्होंने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक से भी मुलाकात की थी। क्षेत्रीय पार्टियों से बात करने के मामले में केसीआर और चंद्रबाबू नायडू अहम कड़िया साबित हो रहे हैं।

Next Stories
1 उत्तरप्रदेश: CM योगी आदित्यनाथ का ट्वीट- मेरे शासनकाल में नहीं हुआ कोई दंगा, दो साल में बदली लोगों की धारणा
2 मजदूर ने चुनरी ओढ़ाकर सीवर के ढक्कन पर सुलाया बच्चा, कार चालक ने कपड़ा समझ कुचल दिया
3 राम मंदिर पर पीएम मोदी के बयान को लेकर शिवसेना का करारा तंज- ‘पिछले 4-5 सालों में पहली बार सच बोले’
ये पढ़ा क्या?
X