Lok Sabha adjourned briefly after protests over Muzzafurpur shelter home rapes - Jansatta
ताज़ा खबर
 

मुजफ्फरपुर कांड पर लोकसभा में हंगामा, स्‍पीकर के अनुरोध पर भी नहीं माने विपक्षी सांसद

बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका आश्रय गृह में नाबालिग बच्चियों के साथ हुए दुष्कर्म की घटना को लेकर लोकसभा की कार्यवाही सोमवार को थोड़ी देर के लिए बाधित रही।

Author August 6, 2018 4:09 PM
लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन (फोटो सोर्स- वीडियो स्क्रीनशॉट)

बिहार के मुजफ्फरपुर बालिका आश्रय गृह में नाबालिग बच्चियों के साथ हुए दुष्कर्म की घटना को लेकर लोकसभा की कार्यवाही सोमवार को थोड़ी देर के लिए बाधित रही। इस मामले में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और कांग्रेस ने साक्ष्यों से छेड़छाड़ का आरोप लगाया और केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से इस मामले में बयान देने की मांग की। इस मुद्दे को उठाते हुए कांग्रेस की सदस्य रंजीत रंजन ने आरोप लगाया कि कुछ आरोपी नेपाल भाग गए हैं। उन्होंने कहा कि मुद्दे पर जो आवश्यक गंभीरता दिखाई जाने की जरूरत थी, राज्य सरकार ने नहीं दिखाई।

राष्ट्रीय जनता दल के नेता जय प्रकाश नारायण यादव ने भी इस मुद्दे को उठाया और आरोप लगाया कि सबूतों से छेड़छाड़ की जा रही है। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि मामले की जांच सीबीआई द्वारा की जा रही है लेकिन कांग्रेस और अन्य सदस्यों ने नारेबाजी करनी जारी रखी। सुमित्रा ने इन सदस्यों से सदन की कार्यवाही चलने देने का आग्रह किया लेकिन वे नहीं माने, जिसके चलते कार्यवाही 15 मिनट के लिए स्थगित करनी पड़ी। गौरतलब है कि बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में एक गैर सरकारी संगठन द्वारा संचालित बालिका गृह में 34 नाबालिग बच्चियों के साथ दुष्कर्म का मामला उजागर हुआ था।

वहीं दूसरी ओर यूपी के देवरिया जिले में स्थित एक बालिका संरक्षण गृह में कथित तौर पर जिस्मफरोशी का धंधा संचालित होने की खबर मिलने के बाद उसकी संचालिका समेत तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। बिहार के मुजफ्फरपुर में हाल में हुए ऐसे ही काण्ड की याद दिलाते इस मामले में पुलिस ने संरक्षण गृह से 24 लड़कियों को मुक्त कराने के बाद उसे सील कर दिया है। पुलिस का दावा है कि संरक्षण गृह से 18 लड़कियां गायब हैं। विपक्षी दलों ने मामले की सीबीआई जांच की मांग की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App