ताज़ा खबर
 

लॉकडाउन में पत्नी से मिलने को चुरा ली बस, चार जिले कर गया पार, फिर…

दिनूप नाम के इस शख्स ने अपने परिवार से मिलने के लिए एक बस चुरा ली और लॉकडाउन की तमाम बंदिशों के बावजूद राज्य के चार जिलों को क्रॉस करने में कामयाब रहा। हालांकि बाद में पुलिस ने उसे पकड़ लिया और उसका प्‍लान नाकाम हो गया।

तस्वीर का इस्तेमाल प्रस्तुतीकरण के लिए किया गया है। (express file photo)

लॉकडाउन के चलते आम जनता को कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में दूसरे शहरों में काम करने वाले कई मजदूर अपने परिवार से दूर फंसे हुए हैं। ऐसे में केरल के 30 साल के एक शख्‍स ने अपने परिवार से मिलने के लिए कुछ ऐसा किया। जिसने सब को चौंका के रख दिया।

दिनूप नाम के इस शख्स ने अपने परिवार से मिलने के लिए एक बस चुरा ली और लॉकडाउन की तमाम बंदिशों के बावजूद राज्य के चार जिलों को क्रॉस करने में कामयाब रहा। हालांकि बाद में पुलिस ने उसे पकड़ लिया और उसका प्‍लान नाकाम हो गया। पुलिस ने बताया कि दिनूप ने कोझीकोड के पास बस स्टैंड पर खड़ी प्राइवेट कंपनी की एक बस को शनिवार रात को चुराया था। पूरी रात वो बस चलाता रहा लेकिन रविवार की सुबह पुलिस ने उसे पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया। उसे जुडिशल कस्‍टडी में पुलिस को सौंप दिया गया।

दिनूप ने पुलिस को बताया कि वह पथनमथिट्टा जिले के त‍िरुवला में रह रही अपनी पत्‍नी और बच्‍चे से मिलना चाहता था। लेकिन लॉकडाउन की वजह से वह कोझीकोड़ से 270 किलोमीटर दूर तिरुवला नहीं पहुंच पा रहा था। उसे कुट्टियाडी पुलिस स्‍टेशन के इलाके में एक प्राइवेट बस दिखाई दी जिसके आसपास कोई नहीं था।

दिनूप बस में घुस गया और किसी तरह उसे स्‍टार्ट कर लिया। बस में डीजल फुल था इसलिए वह अपनी मंजिल की ओर निकल पड़ा। रात में दो जगह उसे पुलिस ने रोका तो उसने बताया कि वह पथनमथिट्टा से प्रवासी मजदूरों को लेने जा रहा है। पुलिस ने उसकी बात पर भरोसा कर लिया।

दिनूप ने मलाप्पुरम, त्रिसूर, एर्नाकुलम जिलों को पार करते हुए कोट्टायम जिले में प्रवेश किया। यहीं पर्यटन स्थल कुमाराकोम पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। कुमाराकोम में जब उससे पुलिस ने लाइसेंस मांगा तो उसका झूठ पकड़ा गया. पुलिस ने बस के रजिस्ट्रेशन नंबर के जरिए बस के असली मालिक से संपर्क किया।

Next Stories
1 योगी के गोरखपुर की तस्वीर, अस्पताल के बाहर कंधे पर ही मरीज ने तोड़ दिया दम
2 शिवराज सरकार का बड़ा ऐलान, पिता की मौत के बाद कमाने वाला नहीं तो बच्चों को हर महीने मिलेगी 5000 रुपए पेंशन
3 RSS के ‘पॉजिटिविटी अनलिमिटेड’ कार्यक्रम में शामिल हुए अज़ीम प्रेमजी, बोले- महामारी को ईमानदारी से स्वीकार करना जरूरी
ये  पढ़ा क्या?
X