ताज़ा खबर
 

Bihar Elections 2020: बगावत करने वालों का बड़ा गढ़ बनी LJP? BJP से खफा 9 तो JDU से नाराज 2 को थमाया टिकट

रालोसपा भी बागियों के जरिए सीटें बढ़ाने की कोशिश में लगी है। इसी के तहत जदयू के दो नेताओं को पार्टी में शामिल कर टिकट बांटे गए हैं।

chirag paswan bihar election ljp nda nitish kumarचिराग पासवान इस चुनाव में जदयू को हराने के लिए हरसंभव कोशिश में जुटे हैं। (एक्सप्रेस फोटो)

बिहार विधानसभा चुनाव में अब तक एनडीए की दो पार्टी- जदयू-भाजपा और महागठबंधन की दो पार्टी- राजद-कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर मानी जा रही थी। हालांकि, लोजपा ने इस रेस में भाजपा से अलग चुनाव लड़ने का ऐलान कर मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है। चिराग पासवान के नेतृत्व वाली पार्टी अब बिहार चुनाव में सीटें लाने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती। इसी सिलसिले में लोजपा ने भाजपा और जदयू से आ रहे बागियों को टिकट देना जारी रखा है। आलम यह है कि अब तक भाजपा में टिकट न मिलने से नाराज 9 और जदयू में इसी कारण से बागी हुए 2 नेताओं को लोजपा की ओर से उम्मीदवार बनाया जा चुका है।

गौरतलब है कि लोजपा के संस्थापक दिवंगत नेता रामविलास पासवान के निधन से बिहार में पार्टी के प्रति सहानुभूति बढ़ी है। ऐसे में चिराग को इस बार चुनाव में सीटों की बढ़त बनाने का मौका मिल सकता है। लोजपा में इसी संभावना के साथ हर बागी को टिकट दिए जा रहे हैं। बता दें कि लोजपा ने अब तक भाजपा से आए झाझा के विधायक राजेंद्र सिंह, पूर्व विधायक रामेश्वर चौरसिया, ऊषा विद्यार्थी, महिला प्रकोष्ठ की उपाध्यक्ष इंदू कश्यप और पिछली बार भाजपा टिकट पर चुनाव लड़ने वाले डॉक्टर मृणाल शेखर, पार्टी की महिला मोर्चा की प्रवक्ता रहीं श्वेता सिंह के अलावा राकेश कुमार सिंह और रानी कुमार को भी टिकट दिया है।

जदयू से आए बड़े नेता व पूर्व मंत्री श्रीभगवान सिंह कुशवाहा और चंद्रशेखर पासवान को भी लोजपा ने टिकट दिया है। इतना ही नहीं रालोसपा भी बागियों के जरिए सीटें बढ़ाने की कोशिश में लगी है। इसी के तहत एनडीए के दो नेताओं को पार्टी में शामिल कर टिकट बांटे गए हैं। इनमें जदयू के रणविजय सिंह को गोह से उम्मीदवार बनाया गया है। भाजपा में रहे अजय प्रताप सिंह जमुई से रालोसपा के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे।

इसके अलावा पूर्व में एनडीए के समर्थक रहे 5 निर्दलीयों को भी टिकट दिए गए हैं। अब माना जा रहा है कि कुछ अन्य पार्टियों के वे नेता, जो टिकट न मिलने से नाराज हैं, वे भी बागी तेवर अपनाकर टिकट के लिए दूसरी पार्टियों का दामन थाम सकते हैं।

एनडीए ही नहीं, राजद से भी टूटे नेता: लोजपा ने सिर्फ बिहार में चुनाव लड़ रहे एनडीए गठबंधन से ही नहीं, राजद के भी एक पूर्व नेता को टिकट दिया है। यह हैं राजद अति-पिछड़ा प्रकोष्ठ के पूर्व महासचिव सुरेश निषाद, जो मोकामा से लोजपा के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे। महागठबंधन के कुछ अन्य नेता भी टूटे हैं। बोधगया से राजद के महादलित प्रकोष्ठ के पूर्व अध्यक्ष रवींद्र राजवंशी निर्दलीय चुनाव लड़ रहे हैं। इसके अलावा बछवाड़ा से कांग्रेस के दिवंगत विधायक रामदेव राय के बेटे शिवप्रकाश राय भी निर्दलीय खड़े हैं। इसके अलावा हम पार्टी के मुकेश कुमार यादव को लोजपा ने शेरघाटी से टिकट दिया है।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 BJP के सत्ता में आने के बाद CM का पोता बना था 2 फर्म में डायरेक्टर, 7 शेल कंपनियों से 3 माह में मिले 5 करोड़ रुपए
2 आज भी खरे हैं गांव; मिट्टी की खुशबू, परंपरा, श्रम, स्वावलंबन व अपनेपन को देखना, महसूस करना हो तो गांव चलें
3 Hathras Case: CBI ने शुरू की जांच, योगी सरकार ने की थी सिफारिश