ताज़ा खबर
 

Haryana: बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे रूके थे, बिजली गिरने से पति-पत्नी समेत 3 की मौत

पुलिस ने बताया कि शाम करीब सात बजे देवानंद, उसकी पत्नी उर्मिला और मोहित कपास चुनने गए थे। उसी दौरान बारिश शुरू हो गई। बारिश से बचने के लिए तीनों एक पेड़ के नीचे बैठ गए। वहीं उन पर बिजली गिर गई।

Author दादरी | Updated: September 23, 2019 5:38 AM
आकाशीय बिजली गिरने से गई कई लोगों की जान (प्रतीकात्मक तस्वीर- फाइनेंशियल एक्सप्रेस)

हरियाणा के दादरी जिले में बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे खड़े हुए तीन लोगों की बिजली गिरने के चलते मौत हो गई। प्राप्त जानकारी के मुताबिक घटना जिले के जावा गांव की है। मृतकों में एक महिला भी शामिल बताई जा रही है। इसी तरह पश्चिम बंगाल के मालदा में भी बिजली गिरने से ही तीन लोगों की मौत की खबर सामने आई है।

कपास चुनने गए थे तीनोंः दादरी में शनिवार (21 सितंबर) को देर शाम बिजली गिरने से तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि शाम करीब सात बजे देवानंद, उसकी पत्नी उर्मिला और मोहित कपास चुनने गए थे। उसी दौरान बारिश शुरू हो गई। बारिश से बचने के लिए तीनों एक पेड़ के नीचे बैठ गए। वहीं उन पर बिजली गिर गई। आसपास काम कर रहे अन्य ग्रामीणों ने उन्हें दादरी के सदर अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने तीनों को मृत घोषित कर दिया।

बंगाल में भी बिजली गिरने से तीन मौतेंः दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में रविवार (22 सितंबर) को बिजली गिरने के चलते अलग-अलग घटनाओं में तीन लोगों की मौत हो गई और दो लोग घायल हो गए। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। एसपी आलोक रजोरिया ने कहा कि परानपुर उपरटोला गांव के हुसैन आलिया (33), चुनाखली परमपुर गांव के अनारुल हक (34) और चांदपुर कर्बला गांव के एस के हुसैन (17) पर खेत में काम करने के दौरान आकाशीय बिजली गिरने के चलते मौत हो गई।

शवों का पोस्टमॉर्टम हुआः पुलिस ने बताया कि घायलों को मालदा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने दोनों मामलों में मृतकों के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा। दादरी वाले मामले में पोस्टमॉर्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिए हैं। पुलिस और प्रशासन इस संबंध में अन्य औपचारिकताएं पूरी कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

Next Stories
1 असम NRC के बाद मेघालय में MRSS Act को सख्त बनाने की तैयारी, जानें क्या है ये कानून
2 ‘कश्मीर तक पहुंचता केंद्र का दिया सारा पैसा तो घरों पर लगीं होती सोने की छतें’, महाराष्ट्र की चुनावी रैली में बोले अमित शाह
3 83 की उम्र में हासिल की मास्टर डिग्री, ऐसी है होशियारपुर के सोहन सिंह गिल की कहानी