ताज़ा खबर
 

लेफ़्ट महिला विधायक पढ़ रहीं रामायण, वीडियो हुआ वायरल

उल्लेखनीय है कि केरल में 17 जुलाई से रामायण माह की शुरुआत हो गई है। इस दौरान लोग मध्य युगीन कवि 'थुनचात रामानुजन एजुथाचन' द्वारा लिखित 'अध्यात्म रामायण' का 'नीलाविलाक्कु' (पारंपरिक लैंप्स) के सामने बैठकर पाठ करते हैं।

लेफ्ट विधायक यू.प्रतिभा हरि। (IMAGE SOURCE-Facebook/video grab image)

केरल की सत्ताधारी पार्टी सीपीआई-एम की एक महिला विधायक का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी देखा जा रहा है। दरअसल इस वीडियो में महिला विधायक रामायण का पाठ करती नजर आ रही हैं। महिला विधायक का नाम यू. प्रतिभा हरी है, जो कि केरल की कयामकुलम विधानसभा से विधायक हैं। बता दें कि लेफ्ट की महिला विधायक का यह वीडियो केरल सरकार के उस ऐलान के बाद सामने आया है, जिसमें सरकार ने पूरे राज्य में ‘रामायण माह’ मनाने का ऐलान किया है, जिसके तहत केरल में रामायण पाठ के लिए सेमिनार आयोजित किए जाने की योजना बनायी गई है।

वीडियो में दिखाई दे रहा है कि यू.प्रतिभा हरि एक ट्रेडिशनल साड़ी में जमीन पर बैठकर रामायण के छंद गाती सुनाई दे रही हैं। अपने वीडियो के साथ महिला विधायक ने लिखा है कि “रामायण महीना शुरु हो चुका है, सभी श्रद्धा के साथ रामायण पढ़ते हुए इसके गुणों का प्रचार करें।” खास बात ये है कि वामपंथियों के बारे में माना जाता है कि वह किसी धर्म को फॉलो नहीं करते हैं। ऐसे में वामपंथी महिला विधायक द्वारा रामायण पढ़ते हुए अपना वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करना चर्चा का विषय बना हुआ है। उल्लेखनीय है कि केरल में 17 जुलाई से रामायण माह की शुरुआत हो गई है। इस दौरान लोग मध्य युगीन कवि ‘थुनचात रामानुजन एजुथाचन’ द्वारा लिखित ‘अध्यात्म रामायण’ का ‘नीलाविलाक्कु’ (पारंपरिक लैंप्स) के सामने बैठकर पाठ करते हैं।

गौरतलब है कि वामपंथी सरकार द्वारा समर्थित ‘संस्कृति संघ’ ने रामायण माह के दौरान रामायण सेमिनार आयोजित किए जाने का ऐलान किया था, जिस पर विवाद भी हुआ था। हालांकि मीडिया में आ रहीं कुछ खबरों के अनुसार, सीपीआई (एम) सिर्फ संस्कृति संघ के इस कार्यक्रम को स्पॉन्सर कर रही है। संस्कृति संघ के नेताओं का भी कहना है कि संस्कृति संघ एक आजाद संगठन है और लेफ्ट पार्टी का रामायण माह के दौरान सेमिनार आयोजित करने का कोई प्लान नहीं है। इससे पहले खबर आयी थी कि कांग्रेस समर्थित ‘विचार विभाग’ भी रामायण माह के दौरान सेमिनार आयोजित करने की योजना बना रहा है, लेकिन बाद में कांग्रेस के विचार विभाग द्वारा यह योजना रद्द कर दी गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App