ताज़ा खबर
 

सांड को बचाने के चक्कर में पेड़ से टकराकर पलट गई मिनी बस, हादसे में 14 रामपाल समर्थकों की मौत, कई घायल

नागौर जिले में एक बड़ी सड़क हादसा हुआ है जिसमें 14 लोगों की मौत हुई है। इसके साथ 12 अन्य लोगों के घायल होने की भी खबर आ रही है।

Author नागौर | Updated: November 23, 2019 3:34 PM
nagaurहादसे के तस्वीरें (फोटो सोर्स: ANI)

राजस्थान के नागौर जिले में शनिवार (23 नवंबर) को एक सड़क हादसे में 12 लोगों की मौत हो गई है। इस हादसे में 10 अन्य लोग घायल भी हो गए हैं। वहीं घायलों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद पुलिस ने मृतकों की पहचान भी की है। मामले में पुलिस ने बताया कि हादसा तड़के उस समय हुआ, जब महाराष्ट्र के लातूर से हरियाणा के हिसार जा रही एक मिनी बस एक सांड को बचाने के चक्कर में पलट गई। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर लाशों को कब्जे में ले लिया और पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

क्या है पूरा मामलाः घटना पर अधिकारियों ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग के बीच सड़क पर अचानक सांड के आ जाने से यह घटना घटी है। सांड के सामने आने के कारण मिनी बस चालक ने अचानक ब्रैक लगाया और बस बेकाबू होकर पेड़ से जाकर टकरा गई। टक्कर इतनी बड़ी थी कि बस ने पल्टी मार दी थी। वहां मौजूद लोगों ने बताया कि भिंडत इतनी खतरनाक थी कि उस पर सवार 12 यात्रियों की घटना पर ही मौत हो गई। मामले की जांच पुलिस कर रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, दो मिनी बसों में से एक संत रामपाल के समर्थक महाराष्ट्र के लातूर से हरियाणा के हिसार जा रहे थे।

Hindi News Today, 23 November 2019 LIVE Updates: बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करें

घायलों को अस्पताल पहुंचाया गयाः अधिकारियों ने यह भी बताया कि इस हादसे में छह महिलाओं समेत 12 लोगों की मौत हो गई है। इसके साथ 10 अन्य लोग भी घायल हो गए हैं। बता दें कि गंभीर रूप से घायल चार लोगों को जयपुर के सवाई मानसिंह चिकित्सालय में भर्ती करवाया गया है। जबकि छह घायलों को नागौर अस्पताल में भर्ती भी करवाया गया है।

मृतकों की पुलिस ने की पहचानः मामले में पुलिस ने बताया कि 12 मृतकों में से 10 की पहचान हो गई है। उनके नाम भगवान, सुमित्रा,पल्लीराम, मयूरी, रामप्रसाद, गोविंद, शिवप्रसाद, सिद्दी, सालू बाई और सुप्रिया है। इनके परिवार वालों से संपर्क किया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि पोस्टमॉर्टम के बाद मृतकों को लाश उनके परिवार वालों को दे दिया जाएगा।

Hindi News के लिए हमारे साथ फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, टेलीग्राम पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News AppOnline game में रुचि है तो यहां क्‍लिक कर सकते हैं।

Next Stories
1 #Maharashtra: ‘अचानक राष्ट्रपति शासन का हटना और इस प्रकार शपथ दिलाना कौनसी नैतिकता है’
2 #maharashtra: राम मंदिर की विरोधी कांग्रेस का साथ देकर शिवसेना ने दिया लोगों को धोखा
3 देवेंद्र फड़णवीस के CM बनने के बाद बोले शरद पवार, NCP के विधायकों को बिना बताए ही शपथ ग्रहण में ले जाया गया
ये पढ़ा क्या?
X