ताज़ा खबर
 

Mumbai Bridge Collapse: BMC ने विजिलेंस डिपार्टमेंट को दिए जांच के आदेश, 24 घंटों में मांगी प्राथमिक रिपोर्ट

Mumbai CST bridge collapse Today: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने घटनास्थल का दौरा किया था। इसके साथ ही उन्होंने घटना की उच्च स्तरीय जांच कराने और शुक्रवार शाम तक प्राथमिक जिम्मेदारी तय करने का ऐलान किया था।

मुंबई फुट ओवर ब्रिज ( फोटो सोर्स : इंडियन एक्सप्रेस )

Mumbai CST bridge collapse: 6 लोगों की जान लेने और 31 लोगों को घायल करने वाले ब्रिज हादसे के लिए BMC (ब्रह्नमुंबई नगर निगम) ने जांच के आदेश दे दिए हैं। BMC कमिश्नर अजय मेहता ने सतर्कता विभाग से 24 घंटे के भीतर प्राथमिक जांच रिपोर्ट देने के लिए कहा है। BMC ने इस ब्रिज के स्ट्रक्चरल ऑडिट और दुर्घटना के लिए जिम्मेदार अपने कर्मचारियों की भी पहचान करने के लिए कहा है। गुरुवार (14 मार्च) की शाम करीब 7:30 बजे हुए इस हादसे से इलाके में हड़कंप मच गया था।

इससे पहले शुक्रवार (15 मार्च) की सुबह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने घटनास्थल का दौरा किया था। इसके साथ ही उन्होंने घटना की उच्च स्तरीय जांच कराने और शाम तक प्राथमिक जिम्मेदारी तय करने का ऐलान किया था। उन्होंने कहा, ‘स्ट्रक्चरल ऑडिट के बावजूद यह हादसा चौंकाने वाला है। मैंने अजय मेहता से जिम्मेदारों के नाम तय करने को कहा है।’ घायलों से मुलाकात करने के बाद फडणवीस ने कहा कि लगभग 10 घायलों को वार्ड में भर्ती कराया गया है, इनमें से एक की ICU में है। उन्होंने बताया कि सभी की हालत खतरे से बाहर है।

 

इन बिंदुओं पर मांगी रिपोर्टः सीएसटी रेलवे स्टेशन को जाने वाले ब्रिज के टूटने पर चीफ इंजीनियर (विजिलेंस) रिपोर्ट मांगी गई है। इस आधार पर रिपोर्ट तैयार होगी।
1. ब्रिज गिरने का कारणः स्ट्रक्चर में समस्या थी या कोई और कारण है?
2. रखरखावः रिपेयरिंग-मेंटनेंस की तारीख का ब्योरा।
3. स्ट्रक्चरल ऑडिटः ऑडिट समय पर हुआ या नहीं, सही तरीके का अनुसरण किया गया या नहीं, ऑडिट की पिछली सिफारिश कब हुई, ऑडिट रिपोर्ट को निगम अधिकारी ने ठीक से पढ़ा या नहीं, ऑडिट पर निगम अधिकारियों की तरफ से उठाए गए कदम।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App